‘अगर तुम ना होते में’ हिमांशु सोनी ने ऐसे की 7 साल के बच्चे की तरह एक्टिंग!

| 17-02-2022 5:30 AM No Views

ज़ी टीवी का रोमांटिक ड्रामा ‘अगर तुम ना होते’ एक यंग नर्स नियति मिश्रा (सिमरन कौर) और अभिमन्यु पांडे (हिमांशु सोनी) की लव स्टोरी है, जहां अभिमन्यु एक अमीर और आकर्षक नौजवान हैं, जो मानसिक रूप से अस्थिर है। जहां इस शो ने पहले ही दर्शकों का दिल जीत लिया है, वहीं अब सभी को एक सरप्राइज़ मिलने वाला है, जहां आने वाले एपिसोड्स में हिमांशु एक सात साल के बच्चे की तरह एक्टिंग करते नजर आएंगे।आने वाले एपिसोड्स में मनोरमा (अनिता कुलकर्णी द्वारा निभाया गया किरदार) के इरादे जानने के बाद नियति उनसे पूछेगी कि वे अपने ही बेटे अभिमन्यु से बदला क्यों लेना चाहती हैं। हालांकि मनोरमा नियति को कुछ नहीं बताएगी, लेकिन वो उससे अभिमन्यु को छोड़ देने को कहेगी। यह सुनकर नियति हैरान रह जाती है और वो अभिमन्यु से मनोरमा के इरादे बताने की कोशिश करती है, लेकिन अभिमन्यु को अचानक दौरा पड़ जाता है। नियति उसे दवाई देती है, लेकिन इस दौरे के बाद अभिमन्यु एक सात साल के बच्चे की तरह बर्ताव करने लगता है। वो एक छत के किनारे खड़े होकर एक बच्चे की तरह सबकुछ छोड़कर जाने की ज़िद करता है। जहां यह सीक्वेंस आपको अपनी सीट से बांध लेगा, वहीं अभिमन्यु का किरदार निभा रहे हिमांशु इस सीक्वेंस की शूटिंग के दौरान एक अलग ही अनुभव से गुजरे। उन्होंने बिना किसी हार्नेस के सहारे यह सीक्वेंस पूरा किया। हिमांशु बताते हैं कि इस तरह के गंभीर दृश्यों और भूमिकाओं को निभाते समय होने वाला रोमांच उन्हें बहुत अच्छा लगता है।हिमांशु बताते हैं, “सच कहूं तो अभिमन्यु का किरदार मेरे करियर का एक यादगार रोल है। ‘अगर तुम ना होते’ मानसिक स्वास्थ्य जैसे गंभीर मुद्दे को सामने लाता है और मैं इस शो में एक ऐसे शख्स को पूरी विश्वसनीयता के साथ दिखाना चाहता था, जो स्प्लिट पर्सनालिटी डिसऑर्डर से जूझ रहा हो। असल में मैं हमेशा से ही अभिमन्यु जैसा किरदार निभाना चाहता था, इसीलिए मैंने इस रोल के लिए हां की। जब मैंने इस किरदार के बारे में सुना, तो मैं इस शो का हिस्सा बनना चाहता था। आपको ऐसे रोल्स आसानी से नहीं मिलते और मुझे लगता है इस तरह का किरदार अलग-अलग वेरिएशंस आजमाने और अपना टैलेंट दिखाने का एक बढ़िया मौका होता है। मुझे इंटेंस और चैलेंजिंग सीक्वेंस बहुत अच्छे लगते हैं। ऐसे दृश्य मुझे रोमांच से भर देते हैं।”हिमांशु आगे बताते हैं, “अभिमन्यु के रोल में मैं पहले ही अपने किरदार के 5-6 वेरिएशंस कर चुका हूं, जिसके लिए मुझे अपनी बॉडी लैंग्वेज पर बहुत मेहनत करनी पड़ी। आने वाले एपिसोड्स में आप देखेंगे कि किस तरह अभिमन्यु अपनी याददाश्त खो देता है और एक सात साल के बच्चे की तरह व्यवहार करने लगता है। ऐसी स्थिति में आपको एक बच्चे की तरह सोचना होता है। आपको यह समझना होगा कि जब एक बच्चा अजनबियों के बीच फंस जाता है, तो वो किस तरह रिएक्ट करता है और जब उसके पैरेंट्स आसपास नहीं होते हैं तो वो कितना डरा हुआ होता है। मैंने एक बच्चे की साइकोलॉजी समझने की कोशिश की, ताकि मैं शारीरिक और भावनात्मक रूप से अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकूं। मैं उम्मीद करता हूं सभी को मेरी परफॉर्मेंस पसंद आएगी और वे इसी तरह हमारे शो को अपना प्यार देते रहेंगे।”जहां हिमांशु अपने किरदार के साथ प्रयोग करते हुए बढ़िया वक्त गुजार रहे हैं, वहीं यह देखना भी दिलचस्प होगा कि जब अभिमन्यु को अपनी मां मनोरमा के असली इरादों के बारे में पता चलेगा, तो क्या होगा?ज्यादा जानने के लिए देखते रहिए अगर तुम ना होते, पर सोमवार से शुक्रवार रात 10ः30 बजे, सिर्फ ज़ी टीवी पर।