डीआईडी लिटिल मास्टर्स के टैलेंटेड बच्चों ने लेजेंडरी किशोर कुमार को दिया एक दिल छू लेने वाला ट्रिब्यूट; कर दी सबकी आंखें नम!

| 19-04-2022 5:30 AM 3

पिछले 30 सालों से ज़ी टीवी भारतीय युवाओं को अपना सिंगिंग, डांसिंग और एक्टिंग टैलेंट दिखाने के लिए एक ग्लोबल मंच उपलब्ध करा रहा है। इस चैनल के सबसे प्रतिष्ठित डांस रियलिटी शो डांस इंडिया डांस ने जब साल 2009 में अपनी शुरुआत की, तो इसने देश में डांस के माहौल में क्रांतिकारी परिवर्तन ला दिया था। बीते 13 वर्षों में इस शो ने डांस के प्रति इंडिया की सच्ची लगन सामने लाई। अपने दर्शकों को कुछ आकर्षक टीज़र्स के जरिए इस साल के जबर्दस्त टैलेंट की झलक दिखाने के बाद ज़ी टीवी ने हाल ही में देश के सबसे यंग डांसिंग टैलेंट की खोज के लिए अपने बेहद पॉपुलर रियलिटी शो डीआईडी लिटिल मास्टर्स के पांचवे सीज़न की शुरुआत की है।इस रविवार दर्शकों को एक स्पेशल ट्रीट मिलने वाली है, जहां जानी-मानी बॉलीवुड अभिनेत्री लीना चंदावरकर और पॉपुलर प्लेबैक सिंगर सुदेश भोसले डीआईडी लिटिल मास्टर्स में जजों के साथ खास मेहमान के रूप में नजर आएंगे। शूटिंग के दौरान जहां यंग कंटेस्टेंट्स की परफॉर्मेंस किशोर दा को समर्पित होगी, वहीं फैंटास्टिक-15 कंटेस्टेंट्स और उनके स्किपर्स द्वारा इस लेजेंडरी सिंगर को दिए गए एक दिल छू लेने वाले एक्ट ने सभी को भावुक कर दिया। उनके सदाबहार गानों ने सभी के दिलों में किशोर कुमार की यादें ताजा कर दी। इस म्यूज़िकल एक्ट के जरिए किशोर दा के जन्म से लेकर बचपन तक और उनके संघर्ष से लेकर उनके सुनहरे दिनों तक का सफर बयां किया गया। इन नन्हे सितारों की मनमोहक परफॉर्मेंस इतनी अद्भुत थी कि इस प्रस्तुति के अंत में सेट पर मौजूद सभी लोगों की आंखें छलक पड़ी।इस मनमोहक प्रस्तुति के बाद लीना चंदावरकर ने कहा, 'मेरे पास ये बताने के लिए शब्द नहीं है कि इस वक्त मैं क्या महसूस कर रही हूं। इन बच्चों ने इतनी खूबसूरती से परफॉर्म किया कि मुझे ऐसा लगा जैसे किशोर कुमार हमारे आसपास ही मौजूद थे।'सुदेश भोसले ने कहा, 'मुझे लगता है कि हम सभी संगीतकार किशोर दा के आभारी हैं, क्योंकि उनके गाने ही हमारे देश की भावी पीढ़ी को प्रेरित करते हैं। वे अपने सदाबहार गानों के जरिए हमारे बीच थे, अब भी हैं और हमेशा रहेंगे।'रेमो डिसूज़ा ने कहा, 'जब तक भारतीय संगीत जगत का अस्तित्व रहेगा, किशोर दा और उनके गाने हमेशा हमारे दिलों में बसे रहेंगे। हम सभी उनके गाने सुनते हुए बड़े हुए हैं और ये गाने जिंदगी भर हमारी रगों में बहते रहेंगे।'सोनाली बेंद्रे ने कहा, 'मैं आज यहां लेजेंडरी किशोर दा को सेलिब्रेट करते हुए बेहद खुशी महसूस कर रही हूं। मेरा मानना है कि ऐसा कोई भारतीय नहीं है, जिसने उनके गाने ना सुने होंगे, चाहे वो नई सदी के लोग हों या आज के बच्चे या देश का कोई भी व्यक्ति हो।'जहां यह ट्रिब्यूट सबकी आंखों में आंसू ले आएगा, वहीं थोड़ा इंतजार कीजिए और इस वीकेंड फैंटास्टिक 15 कंटेस्टेंट्स की रोमांचक परफॉर्मेंस देखने के लिए तैयार हो जाइए।