कुछ ऐसी होने वाली है सूरज बड़जात्या की फिल्म 'ऊंचाई' की कहानी!

| 28-08-2022 11:00 AM 37

नताशा मालपानी ओसवाल एक ऐसा नाम हैं जो आज के नए समय की 'क्रिएटिव हाउस' हैं. नताशा 'बॉउंडलेस मीडिया' की फाउंडर हैं और एक जानी-मानी निर्माता हैं. नताशा 'स्टोरी टेलिंग' की ताकत में विश्वास रखती हैं. इस समय नताशा अपनी आने वाली फिल्मों  'ऊंचाई' और 'बर्थ' के प्रमोशन में बिज़ी हैं. फिल्म 'ऊंचाई' में अमिताभ बच्चन, अनुपम खेर और बोमन ईरानी नज़र आने वाले हैं. अपनी इन फिल्मों के बारे में नताशा ने टीम मायापुरी से खुल कर बात की और अपनी फिल्मों से जुड़ी कई दिलचस्प बातें भी बताई.

आपकी आने वाली फिल्म 'बर्थ' का ट्रेलर काफ़ी अलग है. 'बर्थ' के बारे में और विस्तार से बताइए.

नताशा: फिल्म 'बर्थ' एक सटेरिकल थ्रिलर फिल्म है. जब मैं ये सोच रही थी कि अब कौन सी फिल्म पर काम करू तब मैंने ये बात समझी कि जब भी हम औरतों को स्क्रीन पर देखते हैं तो वो हमेशा यंग, सेक्सी लगती हैं या प्यार में होती हैं. हम उन्हें एक मां और दादी के रोल में भी देखते हैं लेकिन हम ज़्यादातर उन्हें प्रेग्नेंसी के फ़ेज़ में नहीं देखते हैं. मुझे ये भी महसूस होता है कि पहले के समय में इस चीज़ को बहुत लाइटली लिया जाता था कि आपकी शादी होगी और उसके बाद आपके बच्चे होंगे लेकिन हमारी जनरेशन इस बारे में काफ़ी सोचती है. आज कल लोग बच्चा होने से पहले सोचते हैं कि हम घर और काम के बीच में बैलेंस कैसे बनाएंगे? बच्चा होने के बाद क्या हम अपनी पहचान बरकरार रख पाएंगे? इसलिए हमने सोचा कि 'बर्थ' बना कर इतने ज़रूरी विषय को उठाते हैं लेकिन एक ट्विस्ट के साथ.ये एक बहुत मज़ेदार टेक है उन मांओ के लिए जो अच्छी मां बनने का गिल्ट और प्रेशर लेती हैं.

आज कल बॉक्स ऑफ़िस पर बॉलीवुड फिल्मों का बुरा हाल हो रहा है. आपको क्या लगता है इसकी क्या वजह हो सकती है?

नताशा: मुझे ऐसा लगता है कि अब दर्शक बदल गए हैं. कोरोना काल और ओ.टी.टी ने वो सब कुछ बदल दिया है जो अब कभी वापस नहीं आएगा. इस बात से कोई फ़र्क नहीं पड़ता कि आप कहां रहते हैं या आपकी उम्र कितनी है. आप ग्लोबल कंटेंट देख रहे हैं और मुझे लगता है कि ये बहुत अच्छी बात है. ये बात इंडस्ट्री को और अच्छा काम करने की चुनौती देती है और चेहरों पर ध्यान न दे कर कहानियों पर ध्यान देना सिखाती है.

आप किस बॉलीवुड फिल्म का बेसब्री से इंतज़ार कर रही हैं?

नताशा: मैं फिल्म 'ऊंचाई' का इंतज़ार कर रही हूं जिसे मैं ही प्रोडूस कर रही हूं. ये फिल्म 11 नवंबर को रिलीज़ हो रही है. ये फिल्म सूरज बड़जात्या के निर्देशन में बनी है. वो एक ऐसे निर्देशक हैं जिन्होंने हमे बहुत सारी आइकौनिक फिल्में दी है. मैं इस फिल्म का इंतज़ार इसलिए कर रही हूं क्यों की ये एक फ़ैमिली फिल्म है और ये फिल्म एक बहुत दिलचस्प और अलग कहानी है. ये भी एक ऐसा विषय है जिसे हमने स्क्रीन पर ज़्यादा नहीं देखा है.

फिल्म 'ऊंचाई' में ऐसा क्या अलग है जो दर्शकों को ये फिल्म देखनी चाहिए?

नताशा: इस फिल्म को देखने की बहुत सारी वजह है और सबसे बड़ी वजह ये है कि ये सूरज बड़जात्या की फिल्म है. वो एक बहुत ही अच्छे स्टोरी टेलर हैं, वो आपको हंसाते भी हैं और रुलाते भी हैं. दूसरी वजह फिल्म की कास्ट है. अमिताभ बच्चन, अनुपम खेर, बोमन ईरानी और नीना गुप्ता जी. इतने सारे सितारे एक साथ पहली बार! मैं फिल्म के बारे में ज़्यादा तो नहीं बता सकती लकिन ये कह सकती हूं कि ये एक बहुत अलग कहानी है. ये कहानी दोस्ती पर तो है ही लेकिन साथ ही ये फिल्म 'कमिंग ऑफ़ एज ऐट डिफरेंट ऐजेज़' के बारे में है.
 

सूरज बड़जात्या के साथ काम करने का अनुभव कैसा रहा?

नताशा: बहुत अच्छा रहा! मैं बहुत लकी हूं कि मुझे उनके साथ काम करने का मौका मिला. मुझे लगता है कि वो एक बहुत प्योर फिल्म मेकर हैं. वो जिस तरह से हर चीज़ की तैयारी करते हैं और सोचते हैं वो मुझे बहुत पसंद है.

एक-एक ऐसे मेल और फ़ीमेल एक्टर का नाम बताइए जिनके साथ आप काम करना चाहती हैं.

नताशा: मेरा जवाब काफ़ी अलग है. मैं अलाया फर्नीचरवाला के साथ काम करना चाहती हूं. वो काफ़ी यंग हैं, वो फिल्म 'जवानी जानेमन' में नज़र आई थीं. मुझे लगता है कि उन में वो बात है. मुझे नए लोगों और फ्रेश टैलेंट के साथ काम करना पसंद है. इसके साथ ही मैं सिद्धांत चतुर्वेदी के साथ भी काम करना चाहती हूं. मुझे वो भी बहुत पसंद हैं और मुझे ऐसा लगता है कि जितने टैलेंटेड वो हैं उस मुकाबले अभी तक हमने कुछ भी नहीं देखा है.