katrina kaif: मुझे लगता है कि मैं बहुत सोचती हूँ

| 23-10-2022 1:08 PM 23
katrina kaif

katrina kaif : कटरीना कैफ की फिल्म, ‘फोन भूत’ शादी के बाद पहली फिल्म होगी.  वह इस समय बेहद खश है और मीडिया कर्मियों से मिल कर उनके सवालों के जवाब दिए.  फोन भूत एक्सेल एंटेरटिजन्मनः द्वारा प्रोड्यूस्ड हॉरर कॉमेडी फिल्म है.  कटरिना कैफ, सिद्धांत चतुर्वेदी, ईशान खट्टर भी इस फिल्म में नजर आएंगे.  गुरमीत ने इस फिल्म को निर्देशित किया है -
 शादी के बाद आपके लिए जीवन कैसे बदल गया है?
 हां, शादी के बाद कुछ बदलाव हुए हैं जो मैंने देखे हैं.  सबसे पहले, विक्की कौशल, ने मेरे जीवन में बहुत शांति और स्थिरता लाई है.  एक व्यक्ति के रूप में वह किसी भी चीज से अधिक मजेदार और मस्ती से भरपूर हैं, वह एक ऐसे व्यक्ति हैं जो जीवन को सरलता से जीते हैं.  मुझे लगता है कि मैं बहुत सोचती हूँ मैं आसानी से तनाव ले सकती हूं.  वे कहते हैं कि दो ओप्पोसिट्स चित्र को पूरा करते हैं.  हमारे लिए निश्चित रूप से यही रहा है.  
 आपने करवा चैथ के व्रत की तरह भारतीय संस्कृति को आत्मसात किया.  आपके प्रशंसकों ने इसे पसंद किया और आप इतनी खूबसूरत लग रही थीं? 
 यह हमारे लिए, विक्की के लिए, हमारे प्रशंसकों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है.  मेरी सास और परिवार, हर कोई खुश महसूस करते है.  ये परंपराएं परिवार को भी जोड़े रखती हैं.  ये उत्सव के दिन हमें एक साथ रखते हैं.  यह बहुत महत्वपूर्ण है.  हमें उत्सव के अवसरों का सम्मान करना चाहिए, परिवार के साथ जश्न मनाना चाहिए और सभी त्योहारों के लिए समय निकालना चाहिए.  

katrina_kaif_-_vicky_kaushal_mayapuri

क्या आप विक्की के साथ परियोजनाओं पर हस्ताक्षर करने से पहले चर्चा करते हैं? 
 हम हर चीज पर चर्चा करते हैं लेकिन ऐसा नहीं है कि वह मेरी अनुमति लेता है या मैं लेता हूं.  पेशेवर रूप से हम दो अलग-अलग व्यक्ति हैं.  हमारे मन में एक-दूसरे के प्रोफेशन का सम्मान है.  मेरा मानना है कि मैं उनके काम, उनकी पसंद के लिए उनका सम्मान करती हूं और मुझे लगता है कि वह मेरे करियर में जो मैं हूं उसका सम्मान करते है.  मैं यहाँ उससे अधिक समय तक रही हूँ.  लेकिन हम अलग-अलग चीजों को अलग-अलग तरीकों से देखते हैं.  हमारी सभी चर्चाएं हमारे लिए बहुत ही रोचक और स्वस्थ महसूस करती हैं.  सिर्फ इसलिए कि वह जिस तरह से सोचता है मैं उस दिशा में नहीं सोचती.  कभी-कभी आप किसी व्यक्ति से जवाब पाने के लिए नहीं बल्कि साझा करने के लिए चर्चा करते हैं. 
 क्या शादी के बाद फिल्मों को चुनने के मापदंड बदल गए हैं?
 मेरे लिए भूमिकाएं चुनने के मानदंड का विवाहित होने से कोई लेना-देना नहीं है.  मैंने अक्सर खुद से पूछा है, हां कुछ बदल गया है.  मैं वैसी  व्यक्ति नहीं हूं जैसा मैंने भारत के समय सोचती थी .  जैसा कि हम एक कलाकार के रूप में मनुष्य के रूप में बदलते हैं, उस परिवर्तन को अपने काम में आने देना बहुत महत्वपूर्ण है.  कल्पना कीजिए कि अगर मैं कुछ दोहराने की कोशिश करती  हूं.  मुझे विश्वास नहीं है कि यह दर्शकों के लिए सच होगा, मैं थोड़ा आत्म-अन्वेषण और सोच भी रही हूं.  मेरे पास अभी जवाब नहीं हैं.  भविष्य में मुझे क्या करना चाहिए, इसके बारे में सोचने और समय बिताने के लिए बस अवलोकन करना और समय व्यतीत करना. 

kaitrina kaif vicky

इस फिल्म फोन भूत में आप कॉमेडी भी कर रहे हैं.  यह काफी चुनौतीपूर्ण रहा होगा? 
 यह फिल्म बिल्कुल वैसा ही है जैसा मैंने अजब प्रेम की गजब कहानी, मेरे पति की दुल्हन, नमस्ते लंदन में किया था.  मैं इन फिल्मों की तुलना फोन भूत से कर सकती हूँ.  यह फिल्म में आपको उन फिल्मों से कुछ ज्यादा ही मिलेगी.  इस फिल्म का जोनरध्दुनिया बहुत अलग है.  यह एक पागल विचित्र कहानी है.  यह एक दिखावटी दुनिया है.  यह सभी क्लीचे है और उसका मजाक बनाता है.  इसमें मजाकिया एक लाइनर है, एक टंग इन चीक कहानी है. 

phone bhoot