पब्लिक रिलेशन और फेक न्यूज

| 09-01-2019 4:30 AM 2

एक रियल लाइफ इंसिडेंट से प्रेरित होकर बॉम्बईरिया एक फिल्म प्रचारक मेघना की कहानी को बयाँ करती है, जिसका एक अनिवार्य परिस्थिति में फोन चोरी हो जाता है। एक पब्लिक फिगर की मीडिया रिप्रेजेन्टेटिव होने के नाते, वह अपना फोन वापस पाने के लिए बहुत सी बेताब कोशिशें करती है और इस दौरान एक बेहद ही खतरनाक स्थिति की ओर चली जाती है। हालांकि एक प्रचारक के पास कुछ प्रमुख गुणों में से एक, सच को मोड़ने की क्षमता भी होती है।

असल में मीडिया पर अक्सर फर्जी ख़बरों को अधिक दिखने का आरोप लगाया जाता है और हम सभी जानते हैं कि ये पब्लिक रिलेशन और कम्युनिकेशन के खेल का हिस्सा है। जिस प्रकार मीडिया से खबरों को बाहर रखने के लिए लोगों को हायर किया जाता है, लगभग उसी तरह किसी चीज या व्यक्ति को प्रचारित करने के लिए काम पर रखते हैं। बॉम्बईरिया दिखाता है कि किस तरह मेघना अपने स्किल्स का प्रयोग करके व्यक्तिगगत रूप से जो चीज छिपाना चाहती हैं उसके लिए काम करती है, ये वो स्किल्स है जो उसके भीतर काम के दौरान ही आई हैं। वो जोड़तोड़ करने में माहिर है और चालाक भी। जब हम पहली बार उससे मिलते हैं, तो वह उसके प्रति दूसरे लोगों की सोच से होने वाले परिणामों के बारे में ज्यादा परवाह नहीं करती है। धीरे-धीरे ही सही पर हम उसके परिवर्तन को देख सकते हैं और वह अपनी स्किल्स को दुसरे कारणों के लिए इस्तेमाल करने लगी है। कभी-कभी सच, झूठ से ज्यादा चोट पहुंचाने वाला हो सकता है। कभी-कभी यह आपको मार सकता है, इसलिए उन परिस्थितियों में एक कवर अप करने योग्य क्षमता होना जरूरी है। यह एक सवाल है जो ये बताता है कि हालात कितने ज्यादा विकट हो सकते हैं!

सिद्धार्थ कपूर, अक्षय ओबेरॉय, आदिल हुसैन, शिल्पा शुक्ला, रवि किशन और अजिंक्य देव के साथ बॉम्बईरिया में राधिका आप्टे मुख्य भूमिका निभा रही हैं। फिल्म क्रेओ फिल्म्स एफजेड और ब्यूटीफुल बे एंटरटेनमेंट द्वारा प्रस्तुत की गई है और 11 जनवरी को रिलीज होने के लिए पूरी तरह तैयार है।