फिल्म रिव्यू: कैसी है ‘Shamshera’? हॉल में देखने जाएं या नहीं, पढ़ लीजिये!

| 22-07-2022 2:04 PM 98
Film Shamshera Review How is 'Shamshera'?

रणबीर कपूर , संजय दत्त , वाणी कपूर ,रोनित रॉय और सौरभ शुक्ला स्टारर फिल्म ‘शमशेरा’ अब सिनेमाघरों में लग चुकी है. इस फिल्म का निर्देशन करण मल्होत्रा ने किया है. फिल्म में 1876 के आसपास की एक कहानी दिखाई गई है जो एक डकैत और उसके गुट के बारे में है जिसका नाम "खमेरन" होता है.  

स्टोरी: कहानी वही है. एक पिता. जो अपने समूह के लिए आज़ादी के लिए लड़ मरता है. लेकिन आज़ादी हाथ नहीं आती. और वो मशाल फिर उसके बेटे के हाथ आती है. फिल्म में रणबीर कपूर ने पिता ‘शमशेरा’ और बेटे ‘बल्ली’ का किरदार निभाया है. शुद्ध सिंह (संजय दत्त) एक चालाक दारोगा है जो अंग्रेजों की चापलूसी करता है. और शमशेरा के समूह को बंदी बनाकर धोखे से रख लेता है.

Film Shamshera Review How is 'Shamshera'?

जब बल्ली को पता चलता है कि उसके पिता के साथ क्या हुआ था, तब वह अंग्रेजों के खिलाफ फ़ौज बनाकर लड़ने निकल पड़ता है जहां उसका सामना शुद्ध सिंह से होता है. अब क्या शुद्ध सिंह से इस आर-पार की लड़ाई में बल्ली जीतेगा, या उसके हाथ भी हार ही आएगी? ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी. फिल्म में वाणी कपूर एक डांसर सोना की भूमिका में हैं जिससे बल्ली को प्यार हो जाता है.

एक्टिंग-  यदि हम एक्टिंग की बात करे तो रणबीर कपूर को आप एक नए रोल में देखेंगे. इससे पहले आपने उनको रोमेंटिक हीरो की तरह देखा है लेकिन यहां वो एक अलग अवतार में नज़र आएंगे., इस फिल्म में उनका डबल रोल है. फिल्म की जान संजय दत्त ने एक बार फिर अपने फैंस को कुछ नया दिया है. उन्होंने एक विलन की  भूमिका में  फिर से अपना परचम लहराया है. सपोर्टिंग स्टार कास्ट ने भी अच्छा काम किया है जैसे कि रोनित रॉय ,सौरभ शुक्ला जिनका फिल्म में अहम रोल है उन्होंने भी बहुत अच्छी एक्टिंग की है. वाणी के पास करने को ज्यादा कुछ था नहीं इस फिल्म में, लेकिन जितने भी सीन्स में वो दिखाई दी हैं, उसमें उन्होंने अच्छा काम किया है.

Film Shamshera Review How is 'Shamshera'?

डायरेक्शन- यदि हम फिल्म के निर्देशन की बात करें तो करण मल्होत्रा ने अपना काम बहुत अच्छे से किया है. फिल्म का स्क्रीनप्ले अच्छा है. फिल्म का vfx  बहुत तगड़ा है और गाने भी हिट हैं. करण मल्होत्रा ने सभी चीज़ो का बहुत अच्छे से ध्यान रखा है और अपने काम को बखूबी निभाया है 

कन्क्लूजन-  करण मल्होत्रा  की इस फिल्म के बारे में यदि एक शब्द में बोला जाये तो वो होगा 'एनर्जेटिक'. फिल्म के गाने बहुत अच्छे है ,मिथुन का म्यूजिक और अरिजीत सिंह की आवाज़ आपको बांध कर रखेगी. रणबीर को इस लुक में देखना थोड़ा अलग था. ऐसा हो सकता है कि बीच-बीच में आप compare करने लगें कि शायद वो रोमेंटिक किरदार में ज्यादा जंचते हैं. मेरे हिसाब से इस फिल्म को मैं 3.5 स्टार दूंगा.
 

karan malhotra

-शशांक विक्रम