ऑनस्क्रीन केमिस्ट्री के लिए ऑफ स्क्रीन दोस्ती

author-image
By Mayapuri Desk
New Update
ऑनस्क्रीन केमिस्ट्री के लिए ऑफ स्क्रीन दोस्ती

अभ्यास करने से एक इंसान परफेक्ट बन जाता है! यह कहावत हम लोगों ने बार बार सुनी है और यह कहावत हमारे दैनिक जीवन में भी लागू होती है. कलाकार अपने ऑनस्क्रीन अवतारों में इतने खो जाते हैं कि वे अपनी भूमिका को किसी भी हद तक जस्टिफाई करने के लिए और एक केमिस्ट्री बनाने के लिए कुछ भी करते हैं.

परफेक्शन सफलता की कुंजी है और हमारे कलाकार सीन के पीछे भी इसे मानते हैं. यही मामला अश्मिता और कृष्णा का हुआ जो सोनी एंटरटेनमेंट टेलीवीजन के दिल ही तो है में सेतु और रश्मि की भूमिका निभा रहे हैं. सेतु और रश्मि जो पलक और ऋत्विक के बेस्ट फ्रेंड है, एक दूसरे के प्रति अपनी भावनाएं महसूस तो करते हैं, मगर कह नहीं पाते. ऑनस्क्रीन एक बहुत अच्छी केमिस्ट्री दिखाने के लिए ये दोनों अक्सर एक साथ काफी समय बिताते हैं. ये दोनों एक दूसरे से सबसे अच्छे दोस्त हैं, जो एक दूसरे की मदद हर मोड़ कर पर करते हैं.

केमिस्ट्री बनाने के लिए, कलाकारों के बीच एक समान लेनदेन होना चाहिए

अश्मिता ने कहा “एक केमिस्ट्री बनाने के लिए, कलाकारों के बीच एक समान लेनदेन होना चाहिए,, जिससे वे कैमरे के सामने एक दूसरे के लिए सहज हो सके. हालांकि ऑफस्क्रीन बातचीत होने से दूसरे व्यक्ति के बारे में आपकी समझ बेहतर होती है, मगर यही एक अकेली चीज़ नहीं है हो हमें एक ऑनलाइन केमिस्ट्री बनाने के लिए चाहिए होती है. कई कारक जैसे सिक्वेंस का मूड, सेट का माहौल और जुडाव स्क्रीन पर आपकी उपस्थिति को बेहतर करने में मदद करता है”

Latest Stories