अब एक्शन हीरोइन रोल की बाढ़ सी आ जाएगी: कंगना रनौत

| 08-05-2022 5:30 AM 39

-लिपिका वर्मा कंगना रनौत की फिल्म, ‘धाकड़’ का ट्रैलर हाल ही में रिलीज हुआ। कंगना बतौर अग्नि एजेंट फिल्म में धाकड़ लगेंगी यह ट्रैलर देख  तय किया जा सकता है। इस फिल्म से फीमेल एक्टर एक्शन रोल कर कंगना के लिए यह किरदार फस्र्ट टाइम फीमेल एक्शन रोल है। और सभी एक्शन लीड रोल फीमेल के लिए एक रास्ता मानो खुल सा गया है। सोहम  रॉकस्टार एंटरटेनमेंट,‘‘धाकड़‘‘ प्रेजंेट , प्रस्तुति, दीपक मुकुट प्रोड्यूसर है। निर्देशक राजनीश घई है। फिल्म, ‘धाकड़‘ में एक्शन का जलवा दिखलाने एवं दर्शको का मन लुभान्वित करने कंगना 20 मई 2022 को सिनेमाघरो में अपना एक्शन का जलवा दिखाने आ रही है। फिल्म, ‘धाकड़’ रिलीज के लिए तैयार हैं।बहुत सारी हीरोइन है जिन्हें फीमेल एक्शन रोल लीड करना है। क्या आप पहली एक्टर बन उन सभी का रास्ता खोल रही है?आप का कहना है की मैं शुरूआत कर रही हूँ? तो मैं यहीं कहना चाहूंगी कि मैं इस मामले में न केवल खुश नसीब हूँ, अपितु यह मेरे लिए एक विशेष अधिकार प्राप्ति है। इसके लिए मंै अपने आप को सम्मानित मानती हूँ। यदि यह एक्शन लीड करना पहली बारी इस स्केल पर एक मूवमेंट बनता है और यदि आगे भी फीमेल एक्टर इस तरह के किरदार को आगे ले जाती है बस यह मेरे लिए और उन सभी के लिए उन्नति की और अग्रसर करने जैसा ही है। पिछली मेरी जितनी भी लड़ाईयां हुई है, मुझे यही एहसास होगा की चलो मेरे वह बैटल्स सफल हुए। बस हम फीमेल भी हीरोज की तरह सभी किरदार कर रही है तो इससे बड़ी उपलब्धि और हमारी खुशकिस्मति और क्या हो सकती है।क्योंकि हॉलीवुड फिल्म, ‘किल- बिल‘ और ‘वंडर वुमन‘‘ जैसी फिल्में ग्लोबली  देखी गयी है तो क्या इसी कारण  आपने फीमेल एक्शन लीड इस पैमाने पर करने की ठानी? ऐसा नहीं है कि, मैंने खासकर एक्शन फीमेल लीड करनी चाही। यदि एक लाइफ टाइम में कोई भी हीरो हर तरह के किरदार कर सकता है- जैसे अमिताभ बच्चन जी ने भी अनेक अलग -अलग किरदार निभाए है तो हम भी कर सकते है। बतौर फीमेल एक्टर मैं हमेशा एक पत्नी या गर्लफ्रेंड का किरदार ही क्यों निभाऊं। यह मेरा विजन था। किन्तु मुझे इस तरह का इंटरनेशनल लेवल का किरदार करने मिल जायेगा और यह फिल्म सिनेमा को इतनी उंचाईयों पर ले जायेगा ऐसा हुआ है और ‘धाकड़‘ ऐसा थ्रिल पैदा कर पायी ट्रैलर से यह एक बेहद प्रगतिशील पल है सब के लिए। इस फिल्म में इंटरनेशनल एक्टर्सध्टेक्निशंस का जुड़ाव हुआ है यह बहुत अच्छी और बड़ी बात है।किसे इसका श्रेय देना चाहेंगी आप?इस का क्रेडिट निर्देशक राजनीश घई को देना चाहूंगी। हमारे यहाँ भी एक्शन हीरोइन रोल की बाढ़ सी आ जाएगी और ऐसी कहानियां भी बनाई जाएगी। यदि ऐसा मूवमेंट आता है तो मेरे लिए यह सम्मान और विशेषाधिकार मिलने जैसा होगा। इससे अच्छी और खुशी की बात मेरे लिए और क्या हो सकती है। सभी दर्शक, हीरोइन को थ्रिलर चरित्र एवं सुपर हीरो के किरदार में देखना पसंद करेंगे। और हमारा सिनेमा वल्र्ड लेवल पर और ख्याति पायेगा। हॉलीवुड में जैसा सभी महिलाओ को एक्शन करने मिलता है, यहाँ की लड़कियों को भी देखेंगे दर्शक वो सब कुछ स्क्रीन पर करते।क्या, ‘धाकड़‘ में जिस तरह का एक्शन स्टाइल दिख रहा है- ट्रैलर से यह सभी को एहसास दिलाने के लिए काफी है कि हम भी ग्लोबल लेवल की फीमेल एक्शन फिल्में बना सकते है?जी बिल्कुल। यहाँ पर हॉलीवुड की डब  वर्शन बेहद अच्छी चलती है। लोगों को लार्जर  देंन लाइफ टाइप्स फिल्में पसंद आ रही है। हम ऐसा कर पाएं यही आशा है। आज कल सोशल मीडिया की वजह से पूरी दुनिया एक ग्लोबल विलेज गांव, की तरह हो चला है। हम सब टेक्निशियन ध्एक्टर्स एक साथ मिल कर काम भी कर रहे है। एक दूसरे से आसानी से सम्पर्क भी कर सकते है। पूरी दुनिया एक समुदाय की तरह हो गया है।   धाकड़ फिल्म से हमारी एक बहुमूल्य कोशिश है। आशा है किसी भी ग्रेट इंडस्ट्री को टक्कर दे सके, चाहे वो -अमेरिकन इंडस्ट्री या चीन हो।आपने बहुत अलग-अलग किरदार किये है क्या आज आपको हीरो की तुलना में कम पैसे? पर -पैरिटी सभी इंडस्ट्री में दीखी  टिप्पणी? मैं यह जरूर कह सकती कि- मै अंडर पेड़ नहीं हूँ। बस यही कहना चाहूंगी मेरे इस सभी ने मेरा साथ दिया है। ज  फिल्म करते है उस में नर नारी सभी एक टीम की तरह काम करते है और मुझे नर ने साथ दिया है इसलिए मैं आज इस मुकाम पर पहुँच पायी हूँ। सभी को तहे दिल से धन्यवाद कहना चाहूंगी।आपकी बायोपिक बनाई जाये तो किसे देखना पसंद करेंगी और बायोपिक बने इस पर क्या कहना चाहेंगी आप?मेरी लाइफ स्टोरी बेहद ड्रामेटिक रही है। जाहिर सी बात है, यदि मेरी जीवनी पर्दे पर उतारी जाये तो ब्लॉक-बस्टर ही साबित होगी। मेरी बायोपिक कब बनेगी इस पर कोई ठोस उत्तर नहीं दे सकती। अभी तो मुझे बहुत कुछ करना है।