अब कुछ फनी स्क्रिप्ट का हिस्सा बनूँगी – काजोल

0 20

काजोल एवं अजय देवगन कई वर्षों बाद पीरियड बायोग्राफिकल एक्शन फिल्म,’ तान्हाजी द अनसंग वॉरियर  ‘ में एक साथ नजर आने वाले हैं। काजोल सावित्री बाई मालसुरे के किरदार में नजर आएंगी। रियल और रील पत्नी बनी काजोल को केवल एक ही बार अजय ने यह रोल करने की पेशकश की और उन्होंने  तुरंत  हामी भर दी। इस फिल्म के निर्देशक ओम राउत हैं।

“नववर्ष (2020) के इस हफ्ते में मैं यही  आशा करती हूँ कि  यह वर्ष हम सभी के लिए अद्भुत ,रोचक एवं लाभदायक रहे। बस इस वर्ष सभी मानव -मानवता को आगे बढ़ाये , चाहे वह किसी भी रंग का, धर्म का व्यक्ति हो बस मानवता को ही ऊपर रख सभी  से प्यार  करते हुए आगे बढ़े। यदि मानव, मानव को सपोर्ट  नहीं करेगा तो कौन आएगा एक दूसरे को आगे बढ़ाने। ” काजोल का नववर्ष के लिए सभी को मैसेज

पेश है काजोल के साथ लिपिका वर्मा की छोटी सी मुलाकात  

अजय के साथ वापस काम कर रही हैं क्या कहना चाहेंगी आप?

हम दोनों ने लगभग 19 फिल्मों में साथ काम किया है। काफी समय के बाद इस फिल्म ,”तान्हाजी द अनसंग वॉरियर   ‘में हम दोनों साथ नजर आएंगे. अच्छा लग रहा है। घर पर भी हमदोनों काम ही करते है। जब मैं अपना सीन करती हूँ तब वो मुझे कई बारी कहते हैं, ‘तुम को एक बार और यह सीन कर लेना चाहिए  ,क्योंकि तुम और अपना 50 % दे पाओगी।‘ ऐसे अच्छे  और बेहतरीन कलाकार के साथ  काम करके बेहद  मजा आया। दरअसल में आधे समय तो अजय निर्देशक  ही बने रहते हैं, और बाकि आधे समय अभिनेता।

बच्चों ने क्या कहां है इस फिल्म के बारे में?

बच्चे तो दोनों बेहद खुश है कि-हम दोनों [पति-पत्नी]  साथ में एक ही फिल्म में काम कर रहे हैं। उत्सुक भी है- फिल्म की रिलीज़ को लेकर। फिल्म देखने का इंतजार भी कर रहे  हैं। खेर वैसे भी मेरे बच्चे हमेशा मुझ  से यही  शिकायत करते हैं कि – मैं हमेशा रोने धोने का किरदार ही क्यों करती हूँ। चाहे वो फनी फिल्म ही क्यों न हो आखिर में मुझे रोना ही क्यों होता है ।  सो मैंने उन्हें ऐसा न करने का प्रॉमिस भी किया है। और यह भी कहा है कि अब कुछ फनी स्क्रिप्ट  का हिस्सा बनूँगी । 

सावित्री मालुसरे का किरदार कर रही हो  आप, इस बारे में क्या कहना है ?

सावित्री का पूरा सहयोग अपने पति तान्हाजी को  मिलता है। बतौर पत्नी वो बहुत क्लियर  है। उसे जो कुछ भी अपने पति के  लिए  करना है वो उस बात को लेकर अटल है। और उसके सपोर्ट के बिना वो कुछ कर नहीं पाते  हैं। 

फिल्म,”तान्हाजीमें आपने नऊवारी साड़ी पहनी  है और प्रोमोशन्स में भी ?

वैसे भी मुझे नऊवारी साड़ी बहुत सालों  बाद में पहनने  मिली है। यह साड़ी मैंने अपनी शादी पर पहनी थी। वह नथ वग़ैरा पहन कर बहुत अच्छा लगा। और हम सभी  महिलायें साड़ी में चाहे वो-जिस भी साइज या कलर की महिला हो, सभी साडी में खूबसूरत ही लगती है । मेरी माँ [तनूजा] ने जब पहली बार इस फिल्म के लिए मुझे नऊवारी साड़ी में देखा तो उन्होंने यही  कहा -” नऊवारी साड़ी में तुम बहुत खूबसूरत लग रही  हो.बिलकुल अपनी नानी  की तरह ही लग रही  हो। 

 काजोल के लिए स्टारडम के क्या मायने हैं ?

दरअसल में , मेरे  लिए स्टारडम एक जिम्मेदारी है। कभी कभी ओवररेटेड सा लगता है यह स्टारडम तो मुझे  .आज के इस मीडिया के युग में सेलिब्रिटी हर किसी के टच में हैं. उस समय से आज के समय में स्टारडम की परिभाषा  ही अलग हो गयी है। उस समय कोई भी  जिस हीरो या हीरोइन को पसंद करता और उसकी जो भी उम्र की छवि  उसके मस्तिष्क  में बैठ जाती ,वो हीरोइन उसे उतनी उम्र की ही लगती। लेकिन आज ऐसा नहीं  है। सब बदल गया है।

वह मिस्ट्री (जादू) भी नहीं रहा स्टारडम का ?

हाँ मुझे लगता है स्टारडम के जादू को बरकरार रखना चाहिए। पर आजकल ऑफस्क्रीन आपके फैंस  आपको कैसे देखते है ?आप उनके  कितने करीब है ? यह सब भी बहुत  मायने रखता है। पर हाँ ,बॉक्स ऑफिस पर भी आपकी हर फिल्म आपके दर्शकों से आपको कनेक्ट रखती है। सो उसके लिए आपको अपनी फिल्मों का बॉक्स ऑफिस  पर जादू  भी बरकरार रखना होगा ।

और पढ़े: देखिए अमीषा पटेल की बाथरुम में नहातेे हुए फोटो 

Advertisement

Advertisement

Leave a Reply