‘गलत साबित कर दिया तो ट्विटर छोड़ दूंगी’-कंगना रनौत

1 min


देश मे इस समय कृषि बिल को लेकर ही चर्चाएं हैं।इस बिल का विरोध जोरों से हो रहा है।हाल ही में कंगना ने भी इस बिल को लेकर एक ट्वीट किया था।उनके इससे ट्वीट के बाद लोग उनपर भड़क गए।लोगों ने कहा कि कंगना ने किसानों को आतंकी कहा है।कंगना ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक ट्वीट को रिट्वीट कर अपनी बात कही थी।

कंगना ने इस ट्वीट के साथ लिखा था- ”प्रधानमंत्री जी कोई सो रहा हो उसे जगाया जा सकता है, जिसे ग़लतफ़हमी हो उसे समझाया जा सकता है, मगर जो सोने की ऐक्टिंग करे, ना समझने की ऐक्टिंग करे उसे आपके समझाने से क्या फ़र्क़ पड़ेगा? ये वही आतंकी हैं। CAA से एक भी इंसान की सिटिज़नशिप नहीं गयी, मगर इन्होंने ख़ून की नदियाँ बहा दीं।

कंगना के इससे ट्वीट के बाद ही लोग भड़क गए।लोगों का कहना है कि कंगना ने अपने ट्वीट में किसानों को आतंकी कहा है।इसका जवाब देते हए कंगना ने एक और ट्वीट किया है,ट्वीट में उन्होंने लिखा-”जैसे श्री कृष्ण की नारायणी सेना थी, वैसे ही पप्पू की भी अपनी एक चंपू सेना है, जो की सिर्फ़ अफ़वाहों के दम पे लड़ना जानती है। यह है मेरा ओरिजिनल ट्वीट। अगर कोई यह सिद्ध कर दे कि मैंने किसानों को आतंकी कहा, मैं माफ़ी मांगकर हमेशा केलिए ट्विटर छोड़ दूंगी।”

कंगना ने अपनी बात को और साफ़ करते हुए कहा कि जो सीएए के बारे में भ्रामक सूचनाएं और अफ़वाहें फैलाते हैं, वही लोग अब किसानों के बिल को लेकर ग़लत सूचना फैला रहे हैं और देश में आतंक की स्थिति बना रहे हैं। आप सबको अच्छे से पता है कि मैंने क्या कहा था, लेकिन उन्हें तो भ्रामक सूचनाएं फैलानी हैं।


Like it? Share with your friends!

Niharika jain

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये