सुपरहिट कर्मा जैसी फिल्म में कभी नूतन संग किया था काम…आज ओल्ड एज होम में बची कुची ज़िंदगी गुज़ार रहे हैं एक्टर सतीश कौल!

1 min


Satish Kaul

एक्टर सतीश कौल 300 से ज्यादा फिल्मों में कर चुके हैं काम

कहते हैं वक्त सबसे बड़ा होता है…और उससे बलवान कोई और नहीं। भले ही दौलत और शोहरत के दम पर वक्त को बदलने के दावे कितने ही किए जाते हो लेकिन वक्त अपनी ताकत का अहसास करा ही देता है। वक्त के ही सितम के तो शिकार हुए हैं एक्टर सतीश कौल। तभी तो कभी बुलंदियों पर चमकने वाला ये सिताया आज वृद्धाश्रम में ज़िंदगी बिता रहा है।

पंजाबी फिल्मों के माने जाते थे अमिताभ बच्चन

एक समय था जब एक्टर सतीश कौल को पंजाबी फिल्मों का अमिताभ बच्चन कहा जाता था। और इंडस्ट्री के बड़े से बड़ा निर्माता और निर्देशक उनके साथ काम करने के लिए उत्सुक रहते थे। इन्होने अपने एक्टिंग करियर की शुरूआत ही पंजाबी फिल्मों से की थी। और फिर लगातार कई पंजाबी फिल्में हिट रही।

बीआर चोपड़ा की महाभारत में बने थे इंद्रदेव

1988 में आई बी आर चोपड़ा की महाभारत में भी एक्टर सतीश कौल ने अहम किरदार निभाया था। वो भगवान इंद्रदेव के रोल में नज़र आए थे।  सिर्फ महाभारत ही नहीं बल्कि कई और टीवी सीरियल्स में उन्होने काम किया।

कई बड़ी हिंदी फिल्मों में भी आए नज़र

Satish Kaul

पंजाबी सिनेमा के साथ साथ इन्होने बॉलीवुड में भी अपनी धाक जमाई। वो कई बड़ी फिल्मों में नज़र आए। सुपरहिट हिंदी फिल्म कर्मा में उन्होने दिलीप कुमार, नूतन जैसे बड़े स्टार्स के साथ स्क्रीन शेयर की थी। इसके अलावा भी वो आंटी नंबर 1, प्यार तो होना ही था, प्यार का मंदिर और खूनी महल जैसी फिल्मों में नज़र आए। उन्होने अपने करियर में 300 से ज्यादा हिंदी और पंजाबी फिल्में कीं।

फिल्मों के बाद टेलीविज़न का किया रुख

Satish Kaul

Source – Amar Ujala

एक समय ऐसा भी आया जब उन्होने टेलीविज़न का रुख कर लिया। वो महाभारत के अलावा विक्रम बेताल में भी कई रोल निभाते हुए नज़र आए। लेकिन फिर शुरू हो गया एक्टर सतीश कौल के अर्श से फर्श तक का सफर। उन्होने अपना एक एक्टिंग स्कूल भी खोला। उसमें उनके काफी पैसे लगे थे लेकिन वो सारे के सारे पैसे डूब गए। एक्टिंग स्कूल का बिजनेस ठप हो गया। स्थिति ये हो गई थी कि घर चलाने तक के पैसे नहीं बचे थे।

पति और बेटे ने छोड़ा साथ

बुरा समय आया तो सबसे पहले अपनों ने साथ छोड़ा। पत्नी और बेटा उन्हें छोड़कर अमेरिका में बस गए। अब सतीश कौल लुधियाना के विवेकानंद वृद्धाश्रम में गुज़र बसर कर रहे हैं। इससे पहले उनकी तबीयत काफी खराब हो गई थी जिसके चलते उन्हें वहीं के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उनके पास बिल तक भरने के पैसे नहीं थे।

और पढ़ेंः 10 एक्ट्रेसस जो बॉलीवुड में आकर फेमस तो हुई पर उनका करियर दूर तक न चल सका


Like it? Share with your friends!

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये