शूटिंग के दौरान रामायण के हनुमान दारा सिंह ने खानी छोड़ दी थी अपनी ये पसंदीदा चीज

1 min


क्यों रामायण की शूटिंग के दौरान हनुमान दारा सिंह ने छोड़ दिया था नॉन वेज खाना ?

आजकल हर तरफ रामायण की चर्चा चल रही है। दूरदर्शन ने दोबारा से रामायण का प्रसारण शुरु कर दिया है। सभी लोग लॉकडाउन में एकसाथ बैठकर अपने परिवार के साथ रामायण देखते हैं। आज भी रामायण का क्रेज लोगों में उतना ही है, जितना पहले हुआ करता था।

रामायण के राम और सीता यानी अरुण गोविल और दीपिका चिखलिया को इस शो से जितनी पॉप्युलैरिटी मिली। उतनी ही शो से रामायण के हनुमान दारा सिंह को भी। रामायण के हनुमान दारा सिंह की कद काठी की वजह से लोग उन्हें सचमुच हनुमान की तरह पूजने लगे थे और आज भी लोगों के मन में रामायण के हनुमान के रूप में उनकी ही छवि बसी है।

रामायण के हनुमान

Source: Aajtak

शूटिंग के बाद लोग छूते थे दारा सिंह के पैर

रामायण लोगों के लिए आज जितना ऐतिहासिक शो है, उतने ही इससे जुड़े अनसुने किस्से भी हैं। हाल ही में हनुमान जयंती के मौके पर रामायण के हनुमान दारा सिंह के बेटे विंदु दारा सिंह ने अपने पिता के बारे में बात करते हुए बताया था कि रामायण की शूटिंग के दौरान दारा सिंह ने नॉन वेज खाना छोड़ दिया था, जबकि नॉन वेज उन्हें बहुत पसंद था।

विंदु दारा सिंह ने बताया कि वो अपने पिता के साथ शूटिंग लोकेशन पर अक्सर जाया करते थे। शूटिंग लोकेशन सूरत के उमरग्राम में था। शो की पूरी स्टारकास्ट और क्रू मेंबर्स ट्रेन से 5-6 दिनों के लिए सूरत जाते थे और फिर वापस मुंबई आ जाते थे।

रामायण के हनुमान

Source: Aajtak

शूटिंग लोकेशन पर जाते थे विंदु दारा सिंह

विंदु दारा सिंह ने बताया कि जब शूटिंग खत्म होती थी तो उनके पिता दारा सिंह स्टूडियो के गेट खोलते थे, जहा सैकड़ों लोग उनके पैर छूने के लिए खड़े होते थे। ये तो सभी जानते हैं कि रामायण शो इतना पॉप्युलर हुआ कि लोग राम, सीता, लक्ष्मण और हनुमान के किरदार में अरुण गोविल, दीपिका दिखलिया, सुनील लहरी और दारा सिंह की सच में भगवान की तरह पूजा करने लगे थे।

लोग इन्हें ही असली भगवान मानने लगे थे। वहीं, लॉकडाउन की वजह से बॉलीवुड और टीवी इंडस्ट्री का काम पूरी तरह से बंद हो गया है। ऐसे में दूरदर्शन रामायण और महाभारत समेत कई पुराने शोज का दोबारा से प्रसारण कर रहा है। जिसकी वजह से टीआरपी ने भी कई रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं।

ये भी पढ़ेंमिलिए रामानंद सागर की रामायण के ‘लक्ष्मण’ यानि सुनील लहरी से … पढ़े ये दिलचस्प इंटरव्यू


Like it? Share with your friends!

Sangya Singh

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये