याहू! एक्शन कैमरा साउंड फिर से गूंजेगा कश्मीर की वादियों में

1 min


कश्मीर

जब से  गृह मंत्री अमित शाह ने भारतीय संविधान से आर्टिकल 370 हटा दिया है तब से बॉलीवुड में काफी खुशी का माहौल है। आर्टिकल 370 जम्मू कश्मीर को बाकी राज्य के मुकाबले खास दर्ज देता था।  सरकार ने जम्मू और कश्मीर को अब केंद्र शासित प्रदेश बना दिया है।

अब कश्मीर की घाटियों में साउंड, कैमरा, एक्शन की आवाज अधिक मात्रा में गूंजेंगी। जिस दिन आर्टिकल 370 हटाया गया उस दिन अभिनेता और राजनेता परेश रावल ने कहा, ‘आज हमारे मातृभूमि को सही मायने में स्वतंत्रता मिली है। आज भारत एक है, को सही मायना मिला है। जय हिंद।नीरजा के प्रड्यूसर और फोटोग्राफर अतुल कास्बेकर ने कहा, सरकार ने इस लंबे बहस के मुद्दे को खत्म कर दिया है। इसके लिए सरकार को धन्यवाद. अब हमारा यह कर्तव्य बनता है कि हम कश्मीर के लोकल लोगों को सपोर्ट करें ताकि वो हमसे ज्यादा कनेक्टेड फिल करें.
कश्मीर को भारत का स्वर्ग कहा जाता है ।

राजनीतिक मुद्दों की वजह से  फिल्ममेकर्स कश्मीर की जगह विदेशों में शूटिंग करने लगे थे पर अब वापस से धरती के में शूटिंग करने के लिए तैयार है.

ना सिर्फ  70 के दशक की फिल्में जैसे जजंगली, काश्मीर की कली और कभी-कभी बल्कि बजरंगी भाईजान, 7 खून माफ, यहां, रॉकस्टार, मिशन कश्मीरस्टूडेंट ऑफ द ईयर,जब तक है जान, फितूर, ट्यूबलाइट, उरी द सर्जिकल स्ट्राइक और कलंक जैसी फिल्मों की शूटिंग भी कश्मीर में हुई है। बॉलीवुड और कश्मीर के बीच  का अफेयर काफी लंबे समय से हैं। शर्मिला टैगोर से लेकर आलिया भट्ट और स्वर्गीय  शम्मी कपूर से लेकर सलमान खान तक ने यहां शूटिंग की है.

जंगली पिक्चर और धर्मा प्रोडक्शंस तले बनी फिल्म ‘राजी’ जिसमें आलिया भट्ट और  विकी कौशल मुख्य भूमिका में थे यह लेटेस्ट फिल्म है  जिसकी शूटिंग कश्मीर में  हुई है। शूटिंग के दौरान मेघना गुलजार अपने बचपन के दिनों में चली गई जब वो अपने पिता गुलजार के साथ यहाँ उनके सेट पर आया करती करती थी।

बहुत से लोगों को यह नहीं पता कि अयान मुखर्जी की डायरेक्टोरियल फिल्म ‘येजवानी है दीवानी’ में जो मनाली के सीन थे जिसमें पूरा ग्रुप पहाड़ों पर ट्रैकिंग करता है और साथ में एक गाना भी था, वो सब कश्मीर के पहलगाम और गुलमर्ग में शूट किया गया था। फिल्म में रणबीर कपूर,दीपिका पादुकोण,कल्की कोचलीन और आदित्य राय कपूर मुख्य भूमिका में थे।  बाद में फिल्म के मेकर्स को उस वक्त के कश्मीर के चीफ मिनिस्टर उमर अब्दुल्लाह की वजह से  परेशानियां भी हुई थी क्योंकि उमर अब्दुल्ला इस बात से नाखुश थे की फिल्म के सींस जो कश्मीर में शूट हुए हैं उसको फिल्म में मनाली बताया जा रहा है।

विशाल भारद्वाज की फिल्म ‘हैदर’ जो शेक्सपियर के हैमलेट की एडेप्टेशन थी, उसकी पूरी शूटिंग कश्मीर में ही हुई थी। फिल्म में शाहिद कपूर, श्रद्धा कपूर और तब्बू मुख्य भूमिका में थे। फिल्म की शूटिंग पहलगामअनंतनाग, ऐशान साहब जैना कादल ब्रिज,पुराना श्रीनगर,डल लेक ,नसीम बाग,सोनमार्ग में हुई थी। फिल्म में पारिवारिक समस्याएं और भारत और कश्मीर के बीच जो दिक्कतें थी वो दिखाया गया था। फिल्म का साउंडस्केप, फिल्म की भाषा सब कुछ में कश्मीरी फ्लेवर था।

इम्तियाज अली की फिल्म ‘हाईवे’ जिसमें आलिया भट्ट और रणदीप हुड्डा मुख्य किरदार में थे मुख्य किरदार में थे, यह फिल्म भी कश्मीर के अरू वैली में शूट की गई थी। यह फिल्म आलिया के करियर में टर्निंग प्वाइंट थी और  इस फिल्म में आलिया के परफॉर्मेंस की लोगों ने और क्रिटिक्स ने, दोनों ने जमकर तारीफ की।

आर्टिकल 370 के तहत जम्मू कश्मीर का एक अलग ही संविधान था,अलग झंडा था और उनके अपनी अलग कानून बनाने की स्वतंत्रता थी। जम्मू कश्मीर में दूसरे राज्य के के राज्य के के में दूसरे राज्य के के राज्य के के भारतीय प्रॉपर्टी नहीं ले सकते थे।

श्रीराम राघवन जिन्होंने एक हसीना थी, बदलापुर, अंधाधुन जैसी मास्टर पिसेस बनाई हैं, वो कश्मीर में आर्टिकल 370 हटने से काफी खुश हैं। वो कहते हैं, “मैं बहुत खुश हूं. आप माने ना माने मुझे कश्मीर जाने का कभी मौका ही नहीं मिला। मैंने वहां की घाटियों की खूबसूरती के बारे में बहुत सुना है। अब अगर मुझे कोई फिल्म मिलती है जिसकी शूटिंग कश्मीर में होगी तो मैं जरूर वहां का प्लान करूंगा अपनी पूरी यूनिट के साथ और कश्मीर में फिल्म की शूटिंग करूंगा शूटिंग करूंगा।’

आर्टिकल 370 हटने से  कुछ एक्टर्स और फिल्ममेकर्स को दिक्कत हुई है जिन लोगों की कश्मीर में शूटिंग करने के पहले से डेट्स थे। आर्टिकल 370 हटने के बाद कश्मीर में शूटिंग कुछ समय के लिए रोक दी गई है, इसकी वजह से से संजय दत्त, आलिया भट्ट, सिद्धार्थ मल्होत्रा अपनी आने वाली फिल्मों की शूटिंग कश्मीर में फिलहाल नहीं कर पाएंगे। सिद्धार्थ मल्होत्रा अपनी आने वाली फिल्म ‘शेरशाह’  जो कैप्टन विक्रम बत्रा के ऊपर बन ऊपर बन ऊपर ऊपर बन रही है, उसकी शूटिंग कश्मीर में करने वाले थे। हाल में खबर आई आई खबर आई है कि अभी कश्मीर में इसकी शूटिंग रोक दी गई है और आगे की कोई डेट अभी फाइनल नहीं की गई है।

‘सड़क 2’ की भी शूटिंग भी शूटिंग रोक दी गई है जिसमें संजय दत्त आलिया भट्ट आलिया भट्ट मुख्य भूमिका में हैं। इस फिल्म से महेश भट्ट फिर से एक डायरेक्टर के रूप में वापसी कर रहे हैं।

हामी एस्टो प्रोडक्शन्स के मोहम्मद अब्दुल्ला जो जम्मू कश्मीर में शूट्स अरेंज कराते हैं, वो कहते हैं कि, ‘एक तेलुगू फिल्म और दो-तीन बॉलीवुड फिल्में शूट होने वाली थी पर अब डिस्टर्ब माहौल की वजह से शूटिंग होगी या रोकी जाएगी, अभी कुछ पता नहीं है।

अनुपम खेर जो कश्मीर से बिलॉन्ग करते हैं उनकी आंखें अक्सर भर जाती है जाती है है जाती है है जब वो कश्मीर के बारे में बात करते हैं। अनुपम खेर ने ने कहा कि,’ मैं न्यूयॉर्क में जब सुबह उठा तो सुबह उठा तो उठा तो मुझे मेरे जीवन का सबसे बेहतरीन न्यूज़ मिला कश्मीर के बारे में। बधाई हो भारत । कश्मीर के समाधान की  शुरुआत हो गयी है। जम्मू में जन्मे  अभिनेता मोहित रैना कहते हैं कि, ‘अब इसकी वजह से  घाटी के लोगों को पढ़ाई और रोजगार की दिक्कतें नहीं होंगी’।

दक्षिण भारत के प्रोड्यूसर्स भी अपनी फिल्मों की शूटिंग फिल्मों की शूटिंग कश्मीर में करने लगे हैं। दक्षिण भारत के  प्रोड्यूसर जिन्होंने बॉलीवुड में जॉन अब्राहम की ‘रोमियो अकबर वॉल्टर’, अभिषेक बच्चन की ‘मनमर्जियां’ और अर्जुन रामपाल की वेब सीरीज ‘द  फाइनल कॉल’ पर काम किया है वो कहते हैं, ‘हमने तेलुगू फिल्म ‘वेंकी मामा’ की शूटिंग हाल ही में खत्म की है। इसकी शूटिंग  पहलगाम और सोनमर्ग में हुई है। बॉलिवुड की एक बड़ी फिल्म की शूटिंग होने वाली थी यहां, पर 370 हटने की वजह से थोड़े दिन के लिए टल गई है। पर इंशा अल्लाह सब कुछ जल्दी सही हो जाएगा अगर नहीं हुआ तो फिर हमारी रोजी रोटी की रोटी हुआ तो फिर हमारी रोजी रोटी की रोटी तो फिर हमारी रोजी रोटी की रोटी हो जाएगा अगर नहीं हुआ तो फिर हमारी रोजी रोटी की रोटी हुआ तो फिर हमारी रोजी रोटी की रोटी तो फिर हमारी रोजी रोटी की रोटी नहीं हुआ तो फिर हमारी रोजी रोटी की रोटी हमारी रोजी रोटी की रोटी की दिक्कत हो जाएगी।

प्रोडक्शन हाउस को थोड़ा सा ज्यादा खर्च उठाना पड़ेगा क्योंकि शेड्यूल्स में बदलाव हो रहे हैं। जितने भी फिल्म की शूटिंग थी की शूटिंग थी फिल्म की शूटिंग थी की शूटिंग थी वो कुछ समय के लिए रोक दी गई है। इससे ज्यादा फिल्म के के खर्चे पर नुकसान नहीं होगा। फिल्म एंड ट्रेड एक्सपर्ट गिरीश जौहर कहते हैं, ‘पैसे की दिक्कत तब होती जब कश्मीर में शूटिंग स्टार्ट कर देते शूटिंग स्टार्ट कर देते और उन्हें  बीच में ही वापस भेज दिया जाता पर यदि अभी फिल्म की शूटिंग शुरू शूटिंग शुरू शूटिंग फिल्म की शूटिंग शुरू शूटिंग शुरू नहीं हुई है तो खर्च में ज्यादा बढ़ोतरी नहीं होगी।’

बहुत से कश्मीरी को यह लगता है कि बीजेपी चाहती है कि मुस्लिम मेजॉरिटी रीजन में नॉन कश्मीरी कश्मीरी में नॉन कश्मीरी को जमीन खरीदने का अवसर देखकर देखकर वो कश्मीर में बदलाव लाएं। पार्लियामेंट में गृहमंत्री अमित शाह के भाषण ने सभी भारतीयों को आश्चर्यचकित कर दिया था। सरकार ने भी बहुत से प्रिपरेशन के बाद यह निर्णय लिया होगा। इस कदम से प्रधानमंत्री मोदी जी ने भी है दिखा दिया है कि बीजेपी पाकिस्तान और कश्मीर के मुद्दे पर बहुत सख्त है।

अब कश्मीर में क्या बदलाव आए हैं? बदलाव यह है कि अब कश्मीर में अलग कानून नहीं होगा। कश्मीर में भारतीय संविधान को ही माना जाएगा जैसे बाकी राज्यों में माना जाता है। कश्मीर में बाकी राज्य के लोग भी प्रॉपर्टी ले सकते हैं। सरकार का कहना है कि इनका कदमों से कश्मीर में विकास होगा।

अब वो दिन दूर नहीं जब हमारे प्रोड्यूसर्स कश्मीर में फिल्म की शूटिंग के लिए लोकेशन ढूंढते मिलेंगे और शूटिंग ‘याहू’ चिल्लाकर करेंगे।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

 

SHARE

Mayapuri