कश्मीरी पंडित सरपंच की हत्या पर भड़के अनुपम खेर, 1990 की हिंसा की दिलाई याद

1 min


कश्मीरी पंडित अनुपम खेर

कश्मीरी पंडित सरपंच की हत्या पर फूटा अनुपम खेर का गुस्सा, कहा- ‘फिर से नब्बे का दशक दोहराया जा रहा है’

बॉलीवुड वेटरन एक्टर अनुपम खेर तमाम मंचों पर सामाजिक मुद्दों पर खुलकर बोलते नजर आते हैं। इसके अलावा वह सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहते हैं वहीं, अब अनुपम खेर का एक वीडियो बहुत तेजी से वायरल हो रहा है। इसमें वह एक बार फिर कश्मीरी पंडितों पर हुए अत्याचार को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में कश्मीरी पंडित सरपंच की हत्या से दुखी अनुपम खेर ने मंगलवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया। जिसमें उन्होंने कहा कि वहां फिर से नब्बे का दशक दोहराया जा रहा है।

वीडियो शेयर कर जताया गुस्सा

अनुपम खेर ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है। अपना वीडियो शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, ‘कल अनंतनाग में हुई इकलौते कश्मीरी पंडित सरपंच अजय पंडिता की निर्मम हत्या से बहुत दुखी और गुस्सा हूं। उनके परिवार के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना। ऐसे में संदिग्धों ने एक स्पष्ट चुप्पी साध रखी है, अन्यथा ये छाती पीट-पीटकर आंसू बहाते हैं।#JusticeForAjayPandita’

19 जनवरी 1990 की हिंसा दिलाई याद

वीडियो में अनुपम ने कहा, ‘कल दिनदहाड़े कश्मीर के अनंतनाग में एक अकेला कश्मीरी पंडित अकेला इसलिए क्योंकि पूरे कश्मीर में कोई और कश्मीरी पंडित सरपंच नहीं था। उसको हत्यारों ने, आतंकवादियों ने सड़क पर गोली मार दी। ये फिर दोहराया जा रहा है, वही कांड जो 80 के दशक में हुआ था, जिसको फाइनल अंजाम दिया गया था, 19 जनवरी 1990 को। उसके मां-बाप को बिलखता देखकर उनकी तकलीफ देखकर बहुत दुख हुआ, बहुत रोष भी हुआ।’

आगे उन्होंने कहा, ‘अब ये मत बोलना कि कश्मीर में दिनदहाड़े बहुत सारे लोग मारे जा रहे हैं। कश्मीर में दिनदहाड़े बहुत सारे लोग मारकर या डराकर या उनकी महिलाओं को रेप करके पांच सौ हजार यानी पांच लाख कश्मीरी पंडितों को निकाल दिया गया था और वो सिलसिला अभी भी जारी है और एक भी आवाज नहीं आ रही उन सभी लोगों से जो छाती पीट-पीटकर दुहाई देते हैं और बोलते हैं कि अरे देखो मार दिया गया, देखो अन्याय हो गया। किसी का कोई ट्वीट नहीं, किसी को कोई परेशानी नहीं।’

वीडियो में अनुपम खेर का गुस्सा साफ तौर पर नजर आ रहा है। वीडियो के अंत में अनुपम कहते हैं, ‘कश्मीर में जो भी हो चाहे वो मुस्लिम हो, चाहे वो पंडित हो, जो भी अभी भी टेररिज्म कर रहा है, उसको बचाना नहीं है, जब हमारी सिक्युरिटी फोर्सेस उसे पकड़ने की कोशिश करती है, तो उसको बचाने की कोशिश मत कीजिए। क्योंकि कल को आपके भी परिवार के किसी सदस्य को ऐसे दिनदहाड़े गोली मार दी जाएगी। मेरी भावपूर्ण श्रद्धांजलि उनके परिवार वालों के लिए, उनके घरवालों के लिए उनके बच्चों के लिए। ओम शांति।’

कश्मीरी पंडित को मारी गोली

दरअसल सोमवार की शाम को जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में आतंकियों ने कश्मीरी पंडित सरपंच अजय पंडिता की गोली मारकर हत्या कर दी थी। पुलिस के मुताबिक ये वारदात शाम करीब छह बजे हुई थी। जब आतंकियों ने जिले के लारकीपुरा के लकबावन इलाके के सरपंच और कांग्रेस सदस्य अजय पंडित को पीछे से सिर में गोली मारी थी।

और पढ़ेंः परिणीता के 15 साल / बिना स्क्रिप्ट सुने ही फिल्म के लिए तैयार हो गए थे संजय दत्त, विद्या 13-14 स्क्रीन टेस्ट के बाद हुई थी सेलेक्ट

SHARE