जानें, क्या है पालघर मॉब लिंचिंग मामला, जिस पर बॉलीवुड भी है भड़का, पढ़ें सेलेब्स के रिएक्शन

1 min


Palghar Mob Lynching

गुरूवार रात सामने आया पालघर मॉब लिंचिंग का मामला, 3 लोगों की पीट-पीट कर हत्या

गुरूवार रात महाराष्ट्र में जो हुआ उसने सभी को हिला कर रख दिया है। तीन लोगों की सरेआम निर्मम हत्या से पूरे देश में आक्रोश है। और यही आक्रोश अब बॉलीवुड में भी नज़र आ रहा है। पालघर मॉब लिंचिंग के विरोध में अब बॉलीवुड सेलेब्स भी उतर आए हैं।

इस पूरे मामले के सामने आने के बाद बॉलीवुड से भी रिएक्शन सामने आए हैं जिसमें सभी एक जुट होकर इसकी निंदा कर रहे हैं और हत्यारों को कड़ी से कड़ी सज़ा की मांग सोशल मीडिया पर कर रहे हैं।

पालघर मॉब लिंचिंग पर अनुपम खेर का आया ट्वीट

Palghar Mob Lynching

Source – Youtube

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता अनुपम खेर भी इस ख़बर को पढ़कर हैरान थे। लिहाज़ा उन्होने भी इस पर अपनी प्रतिक्रिया ज़ाहिर की है। उन्होने ट्वीट किया –

‘पालघर में तीन साधुओं की मॉब लिंचिंग होना काफी दुखी करने वाला और भयभीत करने वाला है। आखिर तक वीडियो नहीं देख पाया। ये क्या हो रहा है? ये क्यों हो रहा है। मानवता का जघन्य अपराध है ये।

फरहान अख्तर ने ज़ाहिर किया गुस्सा

Source – Digital Duniya

अभिनेता फरहान अख्तर भी पालघर मॉब लिंचिंग पर अपना गुस्सा ज़ाहिर कर रहे हैं। उन्होने कहा कि वो इस हिंसा की कड़ी निंदा करते हैं जिसने पालघर में 3 लोगों की जिंदगी छीन ली है। उपद्रवी भीड़ की समाज में कोई जगह नहीं होनी चाहिए। वहीं उन्होने पूरी उम्मीद भी जताई कि हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया गया है और न्याय भी जल्द से जल्द दिया जाएगा।

अनुराग कश्यप का बयान भी पढ़ें

Palghar Mob Lynching

Source – India

समाज के हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने वाले निर्देशक अनुराग कश्यप ने इस मामले पर भी ट्वीट किया है। उन्होने लिखा –

इसने भी हिंदू-मुसलमान ऐंगल ना ढूँढे । रिपोर्ट पढ़ें ।लगभग  100 लोगों को गिरफ़्तार किया जा चुका है। उनकी निंदा तो करेंगे ही जो उस भीड़ में थे लेकिन उससे ज़्यादा निंदा उस माहौल की करूँगा जो इस देश में बनाया जा चुका है , जिसका यह सीधा नतीजा है।

क्या है पालघर मॉब लिंचिंग मामला?

अगर आप नहीं जानते हैं कि ये Palghar Mob Lynching मामला आखिर है क्या और क्यों इस पर इतना विवाद हो रहा है। तो चलिए आपको अब ये पूरा वाक्या समझा देते हैं। महाराष्ट्र के पालघर में ये पूरी वारदात हुई है जहां गुरुवार रात जिले के कासा पुलिस थाना इलाके में चोरों के घूमने की अफवाह फैली हुई थी।  रात 10 बजे के करीब खानवेल मार्ग पर नासिक की तरफ से एक गाड़ी आ रही थी जिसमें 3 लोग सवार थे। गांव वालों ने रोका और फिर पूछताछ की लेकिन चोर होने के शक में गाड़ी में सवार तीनों लोगों पर पत्थरों से हमला कर दिया।

तीनों लोगों की मौके पर ही मौत

नतीजा ये रहा कि तीनों लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। बाद में जांच में पता चला कि तीनों मृतक कोई चोर नहीं थे बल्कि मुंबई के कांदिवली से सूरत अपने एक दोस्त के अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने जा रहे थे। इसमें 35 साल के सुशीलगिरी महाराज और 70 साल के चिकणे महाराज कल्पवृक्षगिरी थे। और इनके साथ 30 वर्षीय ड्राइवर निलेश तेलगड़े भी था। ये सरासर मॉब लिंचिंग का मामला था।

उठ रहे हैं कई सवाल

इस पूरे मामले में स्थानीय प्रशासन की भूमिका भी संदेह के घेरे में है। क्योंकि देश में लॉकडाऊन होने के बावजूद इतनी बड़ी संख्या में लोग एक साथ इक्ठ्ठा कैसे हुए कि उन्होने इतनी बड़ी वारदात को अंजाम दे दिया। हालांकि कहा जा रहा है कि इस मामले में कई लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है।

और पढ़ेंः कोरोनावायरस पर इमरान हाशमी का फूटा गुस्सा, ट्विटर पर ऐसे निकाली भड़ास


Like it? Share with your friends!

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये