CAA और NRC को लेकर जूही चावला ट्विटर पर ट्रेंड कर रही हैं जानिए क्यों

1 min


जूही चावला

जूही चावला ट्विटर पर ट्रेंड कर रहीं हैं जी हां जहां एकतरफ बॉलीवुड की ज्यादातर हस्तियां CAA और NRC जैसे कानून पर लागू होने को लेकर अपना विरोध कर रही हैं तो वही फिल्मों में अपनी स्माइल और एक्टिंग से लाखों लोगों को अपना दिवाना बना चुकी है जूही चावला ने भी इस मुद्दे पर अपनी राय दी है।

जी हां मुंबई में हुए एक कार्यक्रम में जिसका उद्देश्य “फ्री कश्मीर (कथा), भारत विरोधी नारे, झूठे प्रचार और गलत धारणा को साफ करना था में हिस्सा लिया, यहां जूही ने CAA और NRC जैसे कानून, पीएम मोदी और मीडिया को लेकर खुलकर अपनी बात रखी है जूही ने जो कहा आपको जरुर जानना चाहिए।

जूही ने अपनी राय रखते हुए मीडिया को सबसे पहले निशाना बनाया उन्होंने कहा की सिर्फ एक रिएक्शन के लिए” देश में किसी भी घटना मुद्दे के बारे में पूछताछ करना सही नही है। मुझे लगता है की घटनाओं की स्थिति को समझने के लिए समय दिया जाना चाहिए।

उन्होंने आगे कहा- हम काम करने जाते है, यह सोचकर कि अपने काम को कैसे अंजाम दिया जाए, तब कहीं कोई घटना घटती है और फिर आती है मीडिया जो आपसे सवाल करती है की आपका इस घटना के बारे में क्या कहना है? मैं पूछना चाहती हैं कि हमे यह समझ नहीं आया लोगों को समझ नहीं आया और आप रिएक्शन पूछने लगते हैं। पहले लोगों को समझने दीजिए ये CAA या NRC है क्या क्यों इस बारे में बात की जा रही है। हर कोई जल्दबाजी में तोड़ने की बात कर रहा है हम जोड़ने की बात क्यों नही कर रहे हैं? हर कोई यह क्यों कह रहा है कि सरकार क्या कर रही है, ये काम सरकार क्यो कर रही है? लेकिन मैं कहती हैं की अगर आप किसी पर एक उंगली उठाते हो तो बाकी की तीन उंगलियां आपकी तरफ इशारा करती हैं. हम कर क्या रहे हैं? शांत हो जाइए और बात को समझने की कोशिश करिए।

जूही ने आगे देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की तारीफ करते हुए पूछा आप में से कितने लोग है जिन्होंने पिछले पांच सालों में एक भी दिन छुट्टी ना ली हो, मैं किसी पार्टी या पॉलिटिक्स की बात नही कर रही हूं। जी हां मैं एक ऐसे इंसान के बारे में कर रही हूं जो हमारे देश भारत के प्रधानमंत्री है जो बिना रुके हमारे देश को आगे बढ़ाने का प्रयास कर रहे हैं जो हर रात हर शाम ये सोचते हैं की अगला काम क्या करना है।

हम भी यही कहेंगे कोई फिल्म हो या कोई मुद्दा बिना देखे और बिना समझे अपनी राय नही देनी चाहिए और ना ही फालतू की अफवाहें फैलाना चाहिए।

और पढ़े: पहले तो दिल्ली आने से मना कर दिया था, अब कर रही हैं जेएनयू में प्रमोशन ?


Like it? Share with your friends!

Pankaj Namdev

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये