प्रवासी मजदूरों के लिए मसीहा बने सोनू सूद पर बना गाना ‘मेरी मां’ , गाने में सुनाई देगी एक्टर की भी आवाज

1 min


सोनू सूद मेरी मां

प्रवासी मजदूरों और जरुरतमंदो के लिए की गई सोनू सूद की कोशिशों पर बना गाना ‘मेरी मां’, यहां देखिए सॉन्ग

जब से देशभर में लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है। तभी से बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद प्रवासी मजदूरों, छात्रों और जरूरतमंदों के लिए मसीहा बनकर उभरे हैं। फ़िल्मी पर्दे का ये हीरो आज लोगों के लिए रियल लाइफ हीरो बन गया है। प्रवासी मजदूरों को बसों,‌ ट्रेनों और फ्लाइट से उनके घरों में पहुंचाने‌ में जुटे इस रियल लाइफ हीरो सोनू सूद की सराहनीय कोशिशों पर अब एक गाना बनकर तैयार है। इस गाने का नाम दिया गया है ‘मेरी मां’। इस गाने में सोनू सूद के किसी रियल लाइफ हीरो की तरह प्रवासी मजदूरों के दर्द को अपना दर्द समझते हुए मदद करने वाली झलकियों को भी शामिल किया गया है।

राहुल जैन ने गाया है गाना

इस गाने (‘मेरी मां’) में लॉकडाउन में बुरे फंसे प्रवासी मजदूरों के दर्द को एक भावुक मां द्वारा अपने बेटे के लिए बेसब्री से किए जा रहे इंतजार के रूप में दर्शाया गया है। इस गाने को गाया और कम्पोज राहुल जैन ने किया है, वहीं वंदना खंडेलवाल ने इस गीत को लिखा है।

सोनू सूद ने की तारीफ

सोनू सूद मेरी मां

Source – Youtube

‘मेरी मां’ गाने को लेकर‌ जब एक्टर सोनू सूद से संपर्क किया गया, तो सोनू ने कहा,‌”ये मेरे लिए बेहद सम्मान की बात है कि किसी के मन में मेरी कोशिशों को लेकर मुझे एक गाना समर्पित करने का ख्याल आया। इसके लिए मैं राहुल जैन को शुक्रिया अदा करना चाहूंगा। मैंने‌ गाना सुना है और जब आप जब यह गाना सुनोगे और देखोगे तो आपकी आंखों में आंसू आ जाएंगे। बहुत ही कमाल का गाना है। इसमें दिखाया गया है कि किस तरह से एक मां घर लौटने के लिए संघर्षरत बेटे का बेसब्री से इंतजार कर रही है, इस गाने में उस मां की कहानी है। मुझे लगता है कि हर मां, हर बेटा खुद को इस गाने से रिलेट कर पाएंगे।”

गाने में सोनू सूद की आवाज भी देगी सुनाई

सोनू सूद मेरी मां

Source – Twitter

आपको बता दे कि इस गाने में प्रवासी भारतीयों के दर्द को लेकर सोनू सूद की आवाज भी सुनाई देगी। इस गाने के लिए आवाज देने का आइडिया कैसे आया? इस सवाल पर सोनू सूद ने कहा, “लोग रिलेट कर पा रहे हैं कि मैं किस तरह से मांओं को उनके बेटों से मिलाने की कोशिश कर‌ रहा हूं। ऐसे में चंद पंक्तियां मैंने भी बयां की हैं। जब आप सुनेंगे तो आप मां और बेटे के रिश्ते और दूरियों से उपजे दर्द को समझ पाएंगे। मैं भी अपनी मां से बहुत प्यार करता हूं। यह गाना सुनने के बाद हर एक बेटे की आंख में आंसू आ जाएंगे।”

20000 लोगों को भेजा घर

आपको बता दे , सोनू सूद और नीति गोयल का घर भेजो मिशन अनलॉक फेज वन में लगातार चल रहा है। पहले सोनू प्रवासी श्रमिकों को भेजने के लिए बसों का इंतजाम कर रहे थे अब वे ट्रेनों और फ्लाइट के जरिए इस काम को अंजाम दे रहे हैं। शुक्रवार को दोपहर मुंबई के बोरिवली स्टेशन से 2000 से ज्यादा प्रवासियों को रवाना करने एक बार फिर सोनू पहुंचे। रिपोर्ट्स के अनुसार अब तक सोनू करीब 20 हजार लोगों को उनके घर भेज चुके हैं। इसमें असम, उड़ीसा और उत्तराखंड के वे लोग भी शामिल हैं जिनके लिए सोनू ने फ्लाइट की टिकट्स बुक करवाई थीं।

यहां देखिए सॉन्ग

और पढ़ेंः बॉर्डर के 23 साल / 13 जून, 1997 को रिलीज़ हुई थी भारत-पाक लड़ाई पर बनीं ये फिल्म, इससे जुड़े ये किस्से नहीं जानते होंगे आप

SHARE