सुशांत के दोस्त संदीप सिंह ने अंकिता लोखंडे से कहा, सिर्फ तुम ही उसे बचा सकती थी…

1 min


संदीप सिंह अंकिता लोखंडे

सुशांत के दोस्त संदीप सिंह ने कहा, काश अंकिता-सुशांत ने शादी कर ली होती

सुशांत सिंह राजपूत के खास दोस्त और प्रोड्यूसर संदीप सिंह ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक बेहद इमोशनल पोस्ट लिखा है। संदीप सिंह अपने दोस्त सुशांत की मौत से बहुत दुखी हैं और उन्हें बहुत मिस कर रहे हैं। आपको बता दें कि संदीप सिंह, अंकिता लोखंडे के भी बहुत अच्छे दोस्त हैं। संदीप सिंह ने अपने पोस्ट के जरिए सुशांत और अंकिता के साथ अपनी कुछ यादों को ताजा किया है और उसमें लिखा है कि अंकिता, सिर्फ तुम ही उसे बचा सकती थी। इतना ही नहीं, संदीप ने अपनी पोस्ट में ये भी इच्छा जाहिर की है कि काश अंकिता और सुशांत ने शादी कर ली होती।

काश…सुशांत को आत्महत्या करने से रोक पाते

संदीप सिंह, अंकिता लोखंडे और सुशांत सिंह राजपूत के करीबी और बेहद खास दोस्त हैं। संदीप सिंह ने अंकिता लोखंडे को डेडिकेट करते हुए एक इमोशनल और लंबा चौड़ा पोस्ट इंस्टाग्राम पर लिखा है। अपने पोस्ट में उन्होंने लिखा, कि काश वो और अंकिता, सुशांत को आत्महत्या करने से रोक पाते। इस पोस्ट में संदीप ने सुशांत और अंकिता के साथ एक फोटो भी शेयर की है। जिसमें उन्होंने लिखा है,

तुम्हारा प्यार पवित्र था

‘डियर अंकिता, हर दिन गुजरने के साथ एक ही बात मेरा बार-बार पीछा कर रही है। काश,  हमने थोड़ी और कोशिश की होती, हमने उसे रोका होता, हमने उससे भीख मांगी होती! तुम दोनों अलग भी हो गए तो भी तुमने उसकी खुशी और सफलता की प्रार्थना की… तुम्हारा प्यार पवित्र था। खास था। तुमने अब तक अपने घर की नेमप्लेट से उसका नाम नहीं हटाया है। मुझे उन दिनों की याद आती है, जब हम तीनों लोखंडवाला में परिवार की तरह रहते थे। हम लोगों की कई ऐसी यादें हैं, जिन्हें सोचकर आज मेरा दिल रो पड़ता है… साथ में खाना बनाना, साथ में खाना, एसी का पानी गिरना, हमारा मटन भात, हमारी उट्टन, लोनावला या गोवा की लॉन्ग ड्राइव। हमारी पागलपन वाली होली! जो हंसी हमने बांटी, वो जीवन का सेंसिटिव लो फेज जब हम एक-दूसरे के साथ थे, तुम तो सबसे ज्यादा’।

तुम दोनों सच्चा प्यार हो

‘सुशांत के चेहरे पर हंसी लाने के लिए तुम जो चीजें करती थीं। आज भी मैं मानता हूं कि तुम दोनों ही एक-दूसरे के लिए बने थे। तुम दोनों सच्चा प्यार हो। ये बातें, ये यादें मेरे दिल में गूंज रही हैं… मैं उन्हें वापस कैसे लाऊं! मैं उन्हें वापस लाना चाहता हूं। मैं हम तीनों को वापस चाहता हूं! मालपुआ याद है? और कैसे वो मेरी मां से बच्चों की तरह मटन करी मांगता था। मैं जानता हूं कि सिर्फ तुम उसे बचा सकती थी। काश तुम दोनों ने शादी कर ली होती जैसा कि हमने ख्वाब देखा था। अगर वो तुम्हें अपने पास रहने देता… तो तुम उसे बचा सकती थीं। तुम उसकी गर्लफ्रेंड थी, उसकी पत्नी, उसकी मां, हमेशा के लिए उसकी बेस्ट फ्रेंड। आई लव यू अंकिता। मैं तुम्हारी जैसी दोस्त को कभी खोना नहीं चाहता। मैं इसे बर्दाश्त नहीं कर पाऊंगा’।

ये  भी पढ़ेंसुशांत सिंह राजपूत के नाम से इंस्टाग्राम ने जोड़ा Remembering, बढ़ने लगे फॉलोवर्स


Like it? Share with your friends!

Sangya Singh

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये