‘छपाक’ से ज्यादा कलेक्शन करने के बावजूद भी कई मामलों में पीछे है ‘तानाजी’

1 min


छपाक vs तानाजी

एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्रवाल रियल लाइफ पर बेस्ड दीपिका पादुकोण स्टारर फिल्म छपाक और अजय देवगन, सैफ अली खान और काजोल स्टारर एतिहासिक पीरिएड ड्रामा फिल्म तानाजी को रिलीज हुए 5 दिन हो चुके हैं. दोनों फिल्में एक ही दिन 10 जनवरी को रिलीज हुई थी. जहां रिलीज के पहले ही तानाजी ने बॉक्सऑफिस पर धमाल मचा दिया, वहीं, छपाक ने लोगों को काफी निराश किया. ये दोनों फिल्में जबसे रिलीज हुई हैं, तबसे लोग दोनों फिल्मों की हर मामले में एक दूसरे से तुलना कर रहे हैं. लोग तानाजी को छपाक से ज्यादा बेहतर और हर मामले सुपरहिट फिल्म बता रहे हैं.

ये बात सच है कि तानाजी ने 5 दिन में अबतक छपाक से ज्यादा कलेक्शन किया है और लोगों को ये फिल्म छपाक से ज्यादा एंटरटेनिंग लग रही है, उसके बावजदू भी कई ऐसी चीजें हैं, जिसमें तानाजी अब भी छपाक से पीछे है. वहीं, अगर देखा जाए तो दोनों ही फिल्मों की एक-दूसरे से तुलना करना तो बिलकुल ही गलत है. क्योंकि छपाक जहां एक एसिड अटैक सर्वाइवर की सच्ची कहानी पर आधारित एक कम बजट में बनी फिल्म है, जिसका मकसद लोगों का मनोरंजन करना नहीं बल्कि Social Awareness फैलाना है. ऐसी सोशल ड्रामा फिल्मों को सीमित दर्शक ही देखते हैं. वहीं, तानाजी मराठा इतिहास का गौरव रहे तानाजी मालुसरे की वीरता की कहानी है. जो भारी भरकम बजट में बनी एक्शन से भरपूर 3डी फिल्म है. इसे लोगों के एंटरटेनमेंट को ध्यान में रखकर बनाया गया है, जो शुरु से ही हर मामले में ऑडियंस के लिए छपाक से बेहतर थी.

इसके बाद दोनों फिल्मों के कलेक्शन पर ध्यान दिया जाए तो बॉक्स ऑफिस इंडिया वेबसाइट के मुताबिक, छपाक ने 5वें दिन दो से सवा दो करोड़ का कलेक्शन किया. पहले दिन शुक्रवार को 4.77 करोड़, दूसरे दिन 6.90 करोड़, तीसरे दिन 7.35 करोड़ और चौथे दिन 2.35 करोड़ का कलेक्शन किया. इस तरह 5 दिन में फिल्म ने करीब 23.92 करोड़ का बिजनेस कर लिया है. वहीं, तानाजी के कलेक्शन की बात करें तो, ‘तानाजी’ पहले दिन से इस मामले में छपाक से आगे रही है, फिल्म के कलेक्शन में सोमवार की अपेक्षा 20 फीसदी की उछाल देखी गई है। फिल्म ने मंगलवार को 16 करोड़ का कलेक्शन किया। इस तरह पांच दिन में इसने करीब 90.96 करोड़ जुटा लिए हैं। छपाक का बजट 35 करोड़ है. इस लिहाज से देखा जाए तो छपाक ने अपने बजट का 63% कलेक्शन कर लिया है. वहीं, 150 करोड़ के बजट में बनी तानाजी ने अभी अपने बजट का केवल 41% कलेक्शन ही किया है. इसका मतलब छपाक जहां फायदे के बिजनेस में है वहीं तानाजी पीछे चल रही है.

वहीं, अगर स्क्रींस की बात करें तो अजय देवगन की तानाजी को छपाक से कहीं ज्यादा स्क्रींस मिली. तानाजी 3000 स्क्रींस पर रिलीज हुई है, तो वहीं दीपिका की छपाक को तानाजी की आधी से भी कम स्क्रींस (लगभग 1200) पर रिलीज किया गया. ऐसे में दोनों का कलेक्शन बराबरी पर तो नहीं आंका जा सकता है. इसके अलावा एक चीज और भी है जिसकी वजह से तानाजी को छपाक से पीछे कहा जा सकता है. वो ये कि तानाजी एक मल्टी स्टारर फिल्म है. इसमें अजय के साथ काजोल और सैफ अली खान भी हैं. एक्शन और देशभक्ति जैसे मसाले से भरपूर इस फिल्म के लिए ये कलेक्शन अब भी कम है. वहीं, छपाक में ग्राफिक्स, VFX और देशभक्ति जैसी कोई मसालेदार चीज नहीं है. ये एसिड अटैक जैसे सेंसिटिव मुद्दे पर बनी एक गंभीर फिल्म है, जिसमें मेल लीड रोल में कोई सुपरस्टार नहीं है और फिल्म का पूरा भार अकेले दीपिका पर है. अगर इस हिसाब से देखा जाए तो छपाक ही फायदें रही है। खैर, अभी तो देखना बाकी है कि बॉक्सऑफिस पर कौन सी फिल्म फायदे का बिजनेस कर पाती है.

ये भी पढ़ें- सलमान खान ने क्यों जला दी थी अपने पिता सलीम खान की सैलरी ?


Like it? Share with your friends!

Sangya Singh

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये