सूर्यवंशम के 21 साल / फिल्म में रेखा ने दी थी दो अभिनेत्रियों के लिए आवाज़, पढ़ें फिल्म से जुड़े ऐसे ही अनसुने किस्से

1 min


Sooryavansham Ke 21 Saal

अमिताभ बच्चन की सूर्यवंशम के 21 साल हो चुके हैं पूरे, 21 मई 1999 को हुई थी रिलीज़

अगर सवाल पूछा जाए कि उस फिल्म का नाम बताएं जो टेलीविज़न पर सबसे ज्यादा बार टेलीकास्ट की गई है तो यकीनन जवाब होगा सूर्यवंशम। जी हां…वो फिल्म जिसे आज भी उतना ही पसंद किया जाता है जितना कि इसके रिलीज़ के दौरान किया गया था। आज अमिताभ बच्चन स्टारर सूर्यवंशम के 21 साल पूरे हो चुके हैं। ये फिल्म 21 मई, 1999 को रिलीज़ हुई थी।

कहा जाता है कि इस फिल्म में पहले बाप – बेटे के रोल में अमिताभ और अभिषेक नज़र आने वाले थे लेकिन बाद में अमिताभ बच्चन ने ही इसमें डबल रोल किया। ऐसे ना जाने कितने किस्से हैं इस फिल्म से जुड़े हुए जो हम और आप नहीं जानते होंगे। लिहाज़ा आज हम आपको इस फिल्म से जुड़ी वो खास बातें बताने जा रहे हैं जो शायद ही लोग जानते हों।

सूर्यवंशम के 21 साल पूरे होने पर पढ़ें इससे जुड़े अनसुने किस्से

कोलकाता के इस थियेटर में 100 दिनों तक चली थी फिल्म

Sooryavansham Ke 21 Saal

Source – Cinestaan

इस फिल्म की लोकप्रियता का अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कोलकाता के मेट्रो सिनेमा में अमिताभ बच्चन की सूर्यवंशम 100 दिनों तक पर्दे से हटी नहीं थी। यानि 3 महीने से ज्यादा समय तक ये फिल्म मेट्रो सिनेमा में लगी रही। और बंगाल में ये फिल्म ज़बरदस्त हिट रही थी।

7 करोड़ में बनी…साढ़े 12 करोड़ की कमाई

अमिताभ बच्चन की सूर्यवंशम के 21 साल पूरे हो चुके हैं। भले ही आज फिल्में 100 -100 करोड़ के बजट में बनती हो लेकिन उस वक्त बेहद कम बजट में भी उम्दा फिल्में बनती थीं और वो शानदार कमाई भी करती थी। सूर्यवंशम 1999 में 7 करोड़ के बजट में बनकर तैयार हुई फिल्म थी जिसने उस वक्त 12.65 करोड़ की कमाई की थी।

रेखा ने दी थी फिल्म की दो अभिनेत्रियों को आवाज़

हमनें कई बार इस फिल्म को देखा होगा लेकिन कभी इस बात पर ध्यान नहीं दिया। लेकिन ये सच है कि बॉलीवुड की शानदार अभिनेत्री रेखा ने ही सूर्यवंशम की दो अभिनेत्रियों को आवाज़ दी है। एक्ट्रेस जयासुधा जिन्होंने फिल्म में ठाकुर भानु प्रताप की पत्नी का रोल निभाया और अभिनेत्री सौंदर्या जिन्होने भानु प्रताप के बेटे हीरा ठाकुर की पत्नी का रोल निभाया था। दोनों के किरदार को आवाज़ रेखा ने ही दी थी।

चार अलग अलग भाषाओं में बन चुकी है ये फिल्म

Sooryavansham Ke 21 Saal

इस फिल्म की कहानी कितनी शानदार है और इसे कितना पसंद किया गया इसका अंदाज़ा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि 1997 से लेकर 2000 के बीच इसे चार अलग अलग भाषाओं में बनाया गया।

  • 1997 – इस साल सबसे पहले तमिल में सरथ कुमार और देवयानी के साथ ये फिल्म बनी थी।
  • 1998 – तेलुगु में दग्गुबाती वेंकटेश और मीना दुरईराज के साथ इस फिल्म को बनाया गया।
  • 1999 – हिन्दी में सूर्यवंशम का निर्माण हुआ। जिसमें अमिताभ बच्चन थे।
  • 2000 – कन्नड़ में सूर्यवम्शा नाम से ये फिल्म बनाई गई। जिसमें विष्णुवर्धन और ईशा कोप्पिकर लीड रोल में नज़र आए थे।

महज़ 31 साल की उम्र में ही हो गई थी फिल्म में हीरा ठाकुर की पत्नी बनीं अभिनेत्री सौंदर्या की मौत

Source – Amar Ujala

इस फिल्म में लीड एक्ट्रेस थीं सौंदर्या। जो साउथ की जानी मानी स्टार थीं। फिल्म की रिलीज़ के 5 साल बाद एक एयरक्राफ्ट क्रैश में सौंदर्या की मौत हो गई वो तब केवल 31 साल की ही थीं। साल 1992 में फिल्म ‘गंधरवा’ से सौंदर्या ने इंडस्ट्री में डेब्यू किया था। जिसके बाद उन्होंने कन्नड़, तेलुगु, तमिल और मलयालम को मिलाकर 100 से भी ज्यादा फिल्में कीं। उनकी बेहतरीन अदाकारी के लिए उन्हें 6 बार साउथ फिल्मफेयर अवॉर्ड भी मिला। लेकिन सूर्यवंशम उनकी बॉलीवुड की पहली और आखिरी फिल्म थी।

सोनी मैक्स पर बार बार क्यों दिखाई जाती है फिल्म

Source – Boomindya

अब सबसे अहम बात….अकसर हमारे घरों में इस फिल्म को लेकर ज़िक्र होता है और ये बात ज़रूर उठती है कि सूर्यवंशम बार बार क्यों टेलीकास्ट की जाती है। इसके पीछे दो कारण है। एक ये कि इसे प्रसारित करने वाले चैनल के पास इसके 100 साल के राइट्स हैं जिसके कारण इसे बार बार दिखाया जाता है। और दूसरा ये कि सूर्यवंशम के 21 साल बाद भी दर्शक इसे देखना पसंद करते हैं।

और पढ़ेंः ये कलाकार हैं..मरते नहीं, अमर होते हैं…पर्दे पर आई ऋषि कपूर की फिल्में उन्हे भी अमर कर गईं


Like it? Share with your friends!

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये