लॉकडाऊन के दौरान भी बच्चों को मिल रहा है मोटू पतलू कार्टून के नए एपिसोड का फुल डोज़, छुट्टियों के चलते बढ़ी टीआरपी

1 min


Motu Patlu

मोटू पतलू कार्टून के दीवाने हैं बच्चे, लॉकडाऊन के दौरान भी उठा रहे हैं नए एपिसोड का लुत्फ

कोरानावायरस आया…तो हो गया लॉकडाऊन…और लॉकडाऊन हुआ तो हो गई स्कूल के बच्चों की छुट्टी। अब पूरा दिन बच्चे घर पर ही हैं… खेलते भी हैं, पढ़ते भी हैं और दिन भर करते हैं खूब मौज मस्ती। लेकिन इसके अलावा एक और चीज़ है जहां बच्चे सबसे ज्यादा इंज्वॉय करते हैं और वो इनका सबसे अच्छा टाइमपास है। हम बात कर रहे हैं कार्टून्स की। और जब ज़िक्र हो मोटू पतलू कार्टून का तो फिर क्या कहने।

Motu Patlu

Source –Bolly

भई…बच्चों के फेवरेट जो हैं मोटू और पतलू। ऐसे कैरेक्टर जो इनके बीच खूब लोकप्रिय हैं, दोनों की जोड़ी जब भी स्क्रीन पर आती है तो नन्हे मुन्नों के चेहरे अपने आप ही खिल उठते हैं। यही कारण है कि बच्चों के लिए एनिमेशन कंपनी कॉसमॉस – माया भी कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है।

बच्चों के लिए ला रही है नए एपिसोड

Source – Bolly

मोटू पतलू कार्टून बनाने वाली एनिमेशन कंपनी बच्चों की ज़रूरत और खुशी का पूरा ध्यान इस वक्त रखे हुए है। यही कारण है कि लॉकडाऊन के इस मुश्किल भरे समय में भी कॉसमॉस – माया बच्चों के लिए नए एपिसोड्स टेलीकास्ट करवा रही है। ताकि लिटिल चैम्प्स के होठों से मुस्कुराहट कभी खत्म ना हो।

Work From Home से बनाए जा रहे हैं नए एपिसोड्स

Motu Patlu Cartoon

Source – Youtube

शूटिंग ना होने के चलते जहां दूसरे सैटेलाइट चैनल्स इस वक्त 90’s के दौर में पूरी तरह से लौट चुके हैं और अपने सभी पुराने हिट शो री टेलीकास्ट कर रहे हैं तो वहीं निकेलॉडियन पर आने वाला मोटू पतलू कार्टून पूरी फ्रेशनेस के साथ टेलीकास्ट हो रहा है। कॉसमॉस – माया एनिमेशन कंपनी के सभी इम्पलॉइज़ भी इस वक्त वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं। और मोटू पतलू कार्टून के दीवानों को मिल रहा है ताज़ा कन्टेंट।

पुराने एपिसोड्स भी कर सकते हैं टेलीकास्ट

Source – You Tube

फिलहाल चैनल के पास नए एपिसोड्स की कोई कमी नहीं है। लेकिन अगर कोई परेशानी आती भी है तो इसके पुराने एपिसोड्स को टेलीकास्ट करने पर विचार किया जा सकता है। आपको बता दें कि इसका पहला एपिसोड्स 16 अक्टूबर, 2012 को प्रसारित हुआ था जिसका नाम था ‘जॉन बनेगा डॉन’। और तब से 8 साल हो चुके हैं लगातार मोटू पतलू के एपिसोड्स टेलीकास्ट हो रहे हैं। मोटू और पतलू दोनों ही काफी फेमस कैरेक्टर हैं जो बच्चों के बीच काफी लोकप्रिय हैं। ये इसकी लोकप्रियता का ही आलम है कि इन कैरेक्टर्स पर फिल्म भी बन चुकी है। जिसका नाम है ‘किंग ऑफ किंग्स’ जो साल 2016 में रिलीज़ हुई थी।

लोट पोट कॉमिक्स से प्रेरित हैं मोटू पतलू कार्टून के सभी कैरेक्टर

मोटू पतलू के सभी कैरेक्टर चाहे खुद मोटू – पतलू हो या फिर घसीटा राम, इंस्पेक्टर चिंगम या फिर डॉक्टर झटका….सभी भारत की बहुत ही पुरानी कॉमिक्स लोट पोट यानि बाल पत्रिका से प्रेरित हैं। जहां ये रहते हैं उस जगह का नाम है फुरफुरी नगर और वहां से यूरोप टूर के लिए निकले हैं। इन कैरेक्टर के जनक थे दिवंगत श्री ए.पी.बजाज। पहले ये पत्रिका हिंदी में ही प्रकाशित होती थी जो बाद में इंग्लिश में भी छपने लगी। ये 1969 में पहली बार प्रकाशित हुई थी। फेमस कार्टून कैरेक्टर चाचा चौधरी भी लोट पोट कॉमिक्स के लिए ही बनाया गया था।

मोटू पतलू को मिल चुकी है मैडम तुसाड में जगह

Motu Patlu

Source – Digital Studio India

वहीं खास बात ये है कि मोटू पतलू की जोड़ी को दिल्ली के मैडम तुसाड म्यूजियम में जगह मिल चुकी है। जिसमें मोटू अपने पसंदीदा नाश्ते समोसा और पतलू सब कुछ जानने के अपने सर्वोत्कृष्ट भाव के साथ मौजूद हैं। इस म्यूज़ियम में भारत की सर्वोच्च हस्तियों के वैक्स के पुतले लगाए गए हैं उनमें मोटू पतलू को जगह मिलना वाकई इनकी लोकप्रियता की गवाही देता है।

और पढ़ेंः दोबारा जीना हो बचपन, तो देखें दूरदर्शन….90’s के शो के बाद अब दिखने लगे 90’s के विज्ञापन

 

 


Like it? Share with your friends!

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये