Shekhar Suman ने बड़े बेटे आयुष को खोने के दर्द को किया ब्यां

शेखर सुमन और उनके बेटे अध्ययन सुमन संजय लीला भंसाली की मोस्ट अवेटेड सीरीज 'हीरामंडी' में नजर आने वाले हैं.  वहीं शेखर सुमन ने हाल ही में अपनी लाइफ के सबसे कठिन समय को याद किया जब उनके बड़े बेटे आयुष की ईएमएफ के कारण मृत्यु हो गई थी.

author-image
By Asna Zaidi
New Update
Shekhar Suman
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

ताजा खबर: एक्टर शेखर सुमन और उनके बेटे अध्ययन सुमन संजय लीला भंसाली की मोस्ट अवेटेड सीरीज 'हीरामंडी' में नजर आने वाले हैं. ऐसे में शेखर सुमन इस सीरीज को लेकर काफी ज्यादा एक्साइटेड हैं.  वहीं शेखर सुमन ने हाल ही में अपनी लाइफ के सबसे कठिन समय को याद किया जब उनके बड़े बेटे आयुष की एंडोमायोकार्डियल फाइब्रोसिस (ईएमएफ) के कारण मृत्यु हो गई थी.

बेटे आयुष की मृत्यु पर इमोशनल हुए शेखर सुमन

जब मौत के बाद लौटकर आया शेखर सुमन का बेटा, बोले- यकीन था होगी दोबारा  मुलाकात - Shekhar suman recalls when wife alka met son ayush after death at  baba kashi vishwanath

दरअसल, शेखर सुमन ने अपने लेटेस्ट इंटरव्यू में उस दर्दनाक पल को याद किया जब बेटे आयुष की मृत्यु हुई थी, उन्होंने उस गहरे दुख और असहायता की भावना को व्यक्त किया. उन्होंने कहा, "आप हमारी निराशा की गहराई का अंदाजा लगा सकते हैं. हमने दुनिया भर में उपलब्ध बेस्ट मेडिकलकेयर की तलाश में कोई कसर नहीं छोड़ी".

बेटे आयुष के साथ पल पल मर रहा था शेखर सुमन का परिवार

जब मौत के बाद लौटकर आया शेखर सुमन का बेटा, बोले- यकीन था होगी दोबारा  मुलाकात - Shekhar suman recalls when wife alka met son ayush after death at  baba kashi vishwanath

अपनी बात को जारी रखते हुए शेखर सुमन ने आगे कहा, "हमने आध्यात्मिकता में सांत्वना की तलाश की, कई पूजा स्थलों पर गए, बौद्ध धर्म अपनाया और दिन-रात प्रार्थना की. लेकिन जीवन में चमत्कार होते हैं, जो चीजें होने के लिए किस्मत में होती हैं, वो होकर रहती हैं. इसके बावजूद, किसी दैवीय हस्तक्षेप से, आयुष ने बाधाओं को पार किया और न केवल आठ महीने, बल्कि चार साल तक जीवित रहा. हालांकि, उसके अंतिम भाग्य की उभरती वास्तविकता हम पर भारी पड़ गई. मैं उसकी शक्ल को देखते हुए रातों की नींद हराम कर देता था, यह जानते हुए कि एक दिन हमें उसे अलविदा कहना होगा. हमारी असहायता की भावना भारी थी, हमारा दिल टूट गया था. हमें ऐसा लग रहा था जैसे हम उसके साथ मर रहे हैं".

अपने बेटे के शव के साथ लेटे रहे थे शेखर सुमन

27 साल पहले महज 11 साल की उम्र में शेखर सुमन का बेटा छोड़ गया था दुनिया ,पर  उसे याद कर आज भी मनाते है जन्मदिन , शेयर किया ये इमोशनल विडियो ...

आयुष की मौत के दिन को याद करते हुए शेखर सुमन ने कहा, “वह दिन आ गया जब हमें उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा. डॉक्टर का फैसला आने के बाद मैंने उसे अपनी गोद में ले लिया. वह बेजान था, वह हमें छोड़कर जा चुका था. मैं पूरी रात, पूरा दिन उसके शरीर के साथ लेटा रहा और खूब रोया. अलका भी खूब रोई, लेकिन आखिरकार वह संभल गई. माता-पिता के लिए इससे बड़ी पीड़ा, दुख और वेदना क्या हो सकती है कि वे अपने बेटे को अंतिम विदाई दें, उसे अग्नि में समर्पित करें और चिता के चारों ओर चक्कर लगाएं? हमें उम्मीद थी कि समय के साथ घाव भरते हुए दर्द कम हो जाएगा, लेकिन इसके बजाय दर्द और बढ़ गया.” शेखर ने अंत में कहा कि उन्हें अपने छोटे बेटे अध्ययन में आयुष की झलक दिखती है. शेखर सुमन ने कहा, "अध्ययन में हम आयुष और उसकी खुशी देख पाए, मानो उसने अपने छोटे भाई को आशीर्वाद दिया हो".

Heeramandi: The Diamond Bazaar | Heeramandi 

Read More:

Jolly LLB 3 की शूटिंग से पहले अजमेर की दरगाह पहुंचे Arshad Warsi

द ग्रेट इंडियन कपिल शो में इस हफ्ते देओल ब्रदर्स मचाएंगे धमाल

CP Lohani Death: एक्टर सीपी लोहानी का 86 की उम्र में हुआ निधन

Shah Rukh Khan ने DDLJ के इस सीन में पहना Rishi Kapoor का स्वेटर?

 

 

 

Latest Stories