बॉलीवुड में नेपोटिज़्म का मुद्दा गरमाया…..रवीना टंडन, विवेक ओबरॉय, कंगना रनौत ने खुलकर रखी अपनी बात

1 min


Nepotism in Bollywood

बॉलीवुड में नेपोटिज़्म पर अब बॉलीवुड स्टार्स खुलकर निकाल रहे हैं अपनी भड़ास

बॉलीवुड में नेपोटिज़्म की बहस काफी पुरानी है लेकिन पिछले कुछ सालों से इसे अच्छी खासी हवा मिली है। भले ही उतना खुलकर नहीं लेकिन स्टार्स ने बोलना तो शुरु कर ही दिया है। लेकिन अब सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद स्टार्स बिना डरे खुलकर सामने आ रहे हैं और अपनी बात रख रहे हैं।

सुशांत की मौत के बाद सवाल सुलग रहे हैं। भले ही सुशांत ने आत्महत्या की लेकिन उन्हें आत्महत्या के लिए उकसाने के कथित आरोप भी लग रहे हैं। इनकी मौत को बॉलीवुड में आउटसाइडर्स के साथ किए जाने वाले भेदभाव से जोड़कर देखा जा रहा है। नतीजा अब लोग खुलकर इस पर बात कर रहे हैं। और इसका विरोध भी जता रहे हैं।

बॉलीवुड में नेपोटिज़्म

आपको झूठा कहा जाता है, पागल कहा जाता है- रवीना

Nepotism in Bollywood

Source – The Week

भले ही रवीना टंडन सालों से इंडस्ट्री में हैं लेकिन उन्होने आज तक इस पर कुछ भी नहीं कहा था। पर सुशांत की मौत ने उन्हें भी बोलने पर मजबूर कर दिया। ट्वीट कर उन्होने कहा – ‘ऐसा होता है कि आपको फिल्मों से हटा दिया जाता है। हीरो अपनी गर्लफ्रेंड को फिल्मों में लेते हैं या अपने कुछ लोगों के जरिए किसी के बारे में फेक न्यूज फैलाकर उनका करियर खत्म कर देते हैं। आपको बहुत स्ट्रगल करना पड़ता है, लेकिन कुछ लोग इसे झेल जाते हैं और कुछ नहीं।’ यही नहींं उन्होने कहा ‘जब आप इनके खिलाफ आवाज उठाते हैं तो आपको झूठा कह दिया जाता है, पागल कहा जाता है। इस इंडस्ट्री से जुड़कर मैं आभारी हूं, लेकिन यह इंडस्ट्री की सच्चाई है।’

इगो के बारे में कम सोचते हुए काबिल लोगों की तरफ ध्यान देने की ज़रुरत – विवेक ओबरॉय

Nepotism in Bollywood

Source – Daily O

विवेक ओबरॉय के साथ हुआ वो भी सभी जानते हैं। ऐश्वर्या राय से उनका रिश्ता और फिर सलमान के साथ विवाद के बाद उन्हें भी काफी कुछ झेलना पड़ा था। एक बार इंटरव्यू में उन्होने खुद बताया था कि उन्हें किस तरह इंडस्ट्री से अलग थलग कर दिया गया था। वहीं सुशांत की मौत के बाद उन्होने लिखा – ‘उम्मीद करता हूं कि हमारी इंडस्ट्री जो खुद को एक परिवार कहती है खुद का गंभीर रूप से निरीक्षण करेगी, हमें बेहतर बनने के लिए बदलने की जरूरत है, हमें एक दूसरे की बुराइयां करने से ज्यादा एक दूसरे की मदद करने की जरूरत है। इगो के बारे में कम सोचते हुए प्रतिभाशाली और काबिल लोगों की तरफ ध्यान देने की जरूरत है.’

सुशांत की फिल्मों को नहीं किया गया  एक्नॉलेज – कंगना रनौत

कंगना रनौत हमेशा ही बॉलीवुड में नेपोटिज़्म को लेकर मुखर रही हैं। और सुशांत की मौत के बाद भी उन्होने इस मुद्दे को उठाया है। उन्होने एक वीडियो शेयर की जिसमें उन्होने सवाल पूछा कि छिछोरे जैसी बेहतरीन फिल्म को क्यों एक्नॉलेज नहीं किया? जबकि गली ब्वॉय जैसी बकवास फिल्म को इतने अवॉर्ड मिले। आप भी देखें कंगना की ये वीडियो

और पढ़ेंः सुशांत की मौत के बाद अक्षय कुमार का ये थ्रोबैक वीडियो हो रहा है वायरल , आत्महत्या करने वालों के लिए कही थी ये बात


Like it? Share with your friends!

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये