शहीद भगत सिंह के नाम पर बनी वो फिल्मे जिन्होंने इतिहास को अमर कर दिया

बॉलीवुड इंडस्ट्री में इतिहास पर बहुत सी फिल्में बनी है लेकिन, शहीद भगत सिंह जी के जीवनी पर बनी फिल्में हमारे वीर जवान की वीरता को दर्शाता हैं.

author-image
By Richa Mishra
New Update
bhagat singh
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

ताजा खबर : हमारे बॉलीवुड के इतिहास में शहीद भगत सिंह जी को लेकर बहुत सी फिल्में बनी है, जिन्हें दर्शको ने बहुत पसंद भी किया है, प्रेम अबीद, शम्मी कपूर, मनोज कुमार, सोनू सूद, अजय देवगन, बोबी देओल और आमिर खान जिन्होंने इनका रोल बखूबी से अदा किया है, यहाँ वो लिस्ट वो फिल्मों की लिस्ट है जो शहीद भगत सिंह जी को लेकर बनी है.

Shaheed-e-Azad Bhagat Singh (1954) 

शहीद भगत सिंह जी के नाम पर बनी वो 7 फ़िल्में जिन्होंने इतिहास को अमर कर दिया

Shaheed Bhagat Singh (1963) 

शहीद भगत सिंह जी के नाम पर बनी वो 7 फ़िल्में जिन्होंने इतिहास को अमर कर दिया

Shaheed (1965) 

शहीद भगत सिंह जी के नाम पर बनी वो 7 फ़िल्में जिन्होंने इतिहास को अमर कर दिया

Shaheed-E-Azam(2002) 

शहीद भगत सिंह जी के नाम पर बनी वो 7 फ़िल्में जिन्होंने इतिहास को अमर कर दिया

The Legend of Bhagat Singh (2002) 

शहीद भगत सिंह जी के नाम पर बनी वो 7 फ़िल्में जिन्होंने इतिहास को अमर कर दिया

23rd March 1931: Shaheed (2002) 

शहीद भगत सिंह जी के नाम पर बनी वो 7 फ़िल्में जिन्होंने इतिहास को अमर कर दिया

Rang De Basanti (2006) 

शहीद भगत सिंह जी के नाम पर बनी वो 7 फ़िल्में जिन्होंने इतिहास को अमर कर दिया

क्या है शहीद भगत सिंह जी  कहानी

शहीद भगत सिंह जी का जन्म 28 सितम्बर 1907 को शनिवार के दिन सवेरे 9 बजकर 19 मिनट पर हुआ था उसी दिन पिताजी व चाचा जी जेल से छूट कर आये थे तो भगतसिंह जी का नाम रखा था भागों वाला बच्चे के गले पर तिल का निशान था जिसके बारे में किसी पण्डित ने दादी जय कौर जी को बताया कि इस बच्चे के गले में तो नौ लखा हार है इसकी किस्मत में लिखा है इसका नाम सारी दुनिया में होगा भागों वाला को दुनिया सदा सदा के लिए याद करेगी और वह बात सच भी निकली आज भगतसिंह जी का नाम सारी दुनिया में प्रसिद्ध है.

bhagat singh

शहीद भगतसिंह के बारे बहुत कम लोग जानते हैं कि बहुत ही कोमल ह्रदय वाले थे जरा सी दुख भरी कहानी सुनकर भी भगतसिंह जी रोने लग जाते थे लेकिन इन्कलाब जिन्दाबाद साम्राज्यवाद मुर्दाबाद का नारा देने वाले भगतसिंह जी ने आजादी से 18 वर्ष पहले ही बता दिया था कि यह आजादी केवल पूंजी पतियों की आजादी होगी गरीब किसान व मजदूर और अधिक पिसेगा वे चाहते थे ऐसी आजादी हो जिसमें आदमी के द्वारा आदमी का शोषण ना हो सबको बराबर का अधिकार हो आज मैं सभी देशवासियों की तरफ से दोनों हाथ जोड़कर शहीद भगतसिंह जी को शत शत नमन करता हूं वन्दे मातरम् जय हिंद जय भारत इन्कलाब जिन्दाबाद.

rajguru.

अपने देश की आजादी के लिए हंसते हंसते फांसी का फंदा चूमने वाले भारत माता के सच्चे सपूत अमर बलिदानी को उनकी माताजी श्रीमती विद्या वती जी को व उनके पिताजी अमर शहीद सरदार किशन सिंह जी समस्त भारत वासियों की तरफ से दोनों हाथ जोड़कर शत शत नमन वन्दे मातरम् जय हिंद जय भारत

'दिल चाहता है' के सीक्वल पर फरहान अख्तर ने कही ये बात

RC 16 की घोषणा के बाद राम चरण ने जान्हवी कपूर के साथ तस्वीरें शेयर की

Latest Stories