फादर्स डे के मौके पर राजवीर सिंह ने साझा की अपने पिता संग बिताए खास पल

पिता हमारे जीवन का वह महत्वपूर्ण स्तंभ हैं, जो आपको हर परिस्थिति में प्रेरित करते हैं. रही बात अभिनेता राजवीर सिंह की तो उनके पिता ने उन्हें उनके जीवन में हमेशा प्रेरित किया है क्योंकि वे एक आर्मी मैन  रहे हैं...

New Update
On the occasion of Father Day Rajveer Singh shared special moments spent with his father
Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

पिता हमारे जीवन का वह महत्वपूर्ण स्तंभ हैं, जो आपको हर परिस्थिति में प्रेरित करते हैं. रही बात अभिनेता राजवीर सिंह की तो उनके पिता ने उन्हें उनके जीवन में हमेशा प्रेरित किया है क्योंकि वे एक आर्मी मैन  रहे हैं. हर पिता की भूमिका उनके बच्चों के जीवन में अद्वितीय होती है और वे अपने मार्गदर्शन और अनुभवों से उन्हें सिखाते हैं. 'फादर्स डे' हमेशा एक पिता द्वारा अपने बच्चों के लिए किए गए त्याग और समर्पण की याद दिलाता है. स्टार भारत के अपकमिंग शो '10:29 की आखिरी दस्तक' में अभिमन्यु सिन्हा का मुख्य किरदार निभा रहे राजवीर सिंह इस शो में एक पुलिस ऑफिसर का किरदार निभा रहे हैं, जहाँ उन्होंने अपने पिता द्वारा मिली सीख को याद किया. इस 'फादर्स डे' पर राजवीर सिंह से हुई ख़ास बातचीत में उन्होंने अपने पिता से मिले आदर्शों को दर्शकों से साझा किया.

O

अभिनेता राजवीर सिंह ने कहा,

"मेरे पापा एक आर्मी मैन रहें हैं और देश की सेवा में उन्होंने अपना पूरा जीवन लगा दिया, जिसके चलते मैं अनुशासन का पालन करता हूँ चुकीं मैं वो अपने पापा में पचजपं से देखा है. तक़रीबन अठारह साल मैंने उनके यूनिफॉर्म की देखभाल की है. इसे समय पर धुलवाना, कपड़े आयरन करवाना, संभालकर रखना, उसमें सितारे लगाना, नाम की प्लेट जोड़ना - यह सबकुछ करना मेरे लिए गौरव की बात रही है. इसलिए जब मैं शो के लिए पुलिस यूनिफ़ॉर्म पहनता हूँ और खुदको आईने में देखता हूँ तो मुझे वो सारे दिन बहुत याद आते हैं. रिटायरमेंट के बाद आज भी वे अपना सारा काम पूरे अनुशासन के साथ करते हैं. यह एक कारण है कि पुलिस यूनिफ़ॉर्म मुझे अपनी ज़िन्दगी का एक महत्वपूर्ण हिस्सा लगती है. मैं उम्मीद करता हूँ कि दर्शकों को मेरी भूमिका बहुत पसंद आएगी और वह उसे सराहेंगे."  

F

BB

'10:29 की आखिरी दस्तक' एक सुपरनैचरल थ्रिलर शो है, इस शो की कहानी चमकिया गाँव के इर्द-गिर्द घूमती है. यह एक ऐसा गाँव है जहाँ रात10:29 के बाद पुरुषों का घरसे बहार निकलना मना है. यह कहानी दर्शकों के लिए एक रोमांचक अनुभव होगा साथ ही अनुभवी कलाकारों की टुकड़ी के साथ उन्हें शो में कई अनोखे उतार-चढ़ाव देखने को मिलेंगे.

K

चमकिया गाँव की रोमांचक कहानी का अनुभव लेने के लिए देखिए '10:29 की आखिरी दस्तक' शो हर सोमवार से शनिवार, सिर्फ स्टार भारत पर.

Read More:

विजय सेतुपति ने की शाहरुख खान की तारीफ, कहा- 'मैं उनकी आवाज सुनकर...'

जीवन के कठिन समय को याद कर इमोशनल हुए विजय सेतुपति,कहा-'बस गरीबी से..'

Pashmina Roshan हो चुकी हैं डिप्रेशन का शिकार, एक्ट्रेस ने बताई वजह!

कार्तिक आर्यन की फिल्म ‘चंदू चैंपियन’ ने पहले दिन किया इतना कलेक्शन

Latest Stories